हवाला से जुड़े 4 आतंकियों के तार:फर्जी RC पर पंजाब में चलाते थे गाड़ी; गुरप्रीत अपनी गर्लफ्रेंड को भेजता था पैसे

Spread the love

हरियाणा के जिले करनाल के बसताडा टोल पर पकड़े गए 4 खालिस्तानी आतंकियों के बारे में पुलिस ने नए खुलासे किए हैं। गिरफ्तार आतंकियों के तार हवाला से भी जुड़े हुए हैं। हवाला के पैसे भी आतंकियों के पास आते थे। पूछताछ के दौरान आतंकी गुरप्रीत ने बताया कि उसने कई बार अपनी गर्लफ्रेंड को कैश दिया है। उसकी गर्लफ्रेंड ने 12 से 13 लाख रुपए अपनी मां के खाते में जमा करवाए।

पुलिस ने 2 फर्जी गाड़ियों की RC बरामद की है। गिरफ्तार आतंकी पंजाब में नकली आरसी और नम्बर प्लेट के साथ गाड़ी चलाते रहे। आरसी बनाने वाले व्यक्ति के खिलाफ मधुबन थाना में केस दर्ज किया है। जिसकी गिरफ्तारी के लिए छापामारी की जा रही है। यह भी सामने आया कि पाकिस्तान से रिंदा विस्फोटक सामग्री के साथ ड्रग्स भेजता था।

आरोपी ड्रग्स बेचते थे। इससे आने वाले पैसे से ये अपने काम पूरे करते थे। उधर, मोहाली ब्लास्ट से इन आतंकियों के संबंध को लेकर भी जांच जारी है। अलग अलग जांच एजेंसियों ने की आतंकियों से पूछताछ की है। वहीं जेल से राजबीर को पंजाब पुलिस ने प्रोडक्शन वारंट पर लेकर पूछताछ शुरू की।

10 दिन के पुलिस रिमांड पर आरोपी

एसपी गंगाराम पुनिया ने बताया कि 5 मई को 4 आतंकियों की गिरफ्तारी की थी। इसके बाद चारों आरोपियों को 10 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया था। गाड़ी की तलाशी के दौरान दो आरसी भी बरामद हुई थी। उनकी पुलिस ने गहनता से जांच की। इसमें पाया गया कि ये दोनों आरसी हरियाणा की गाड़ियों की हैं।

ये दो गाड़ियां ब्रेजा और स्कॉरपियो है। इनकी गाड़ियां एक पानीपत और दूसरी यमुनानगर में है और आतंकियों के पास ये आरसी फर्जी है। इसके आधार पर मधुबन थाने में दूसरा केस दर्ज किया है। आतंकियों के पास दो अन्य गाड़ियां है। वहीं महाराष्ट्र में भी बारुद पहुंचाने के सवाल पर एसपी ने कहा कि इस मामले में अलग-अलग एजेंसियां पूछताछ में जुटी हैं।

देशभर से सुरक्षा एजेंसियों अपनी जिम्मेदारियों को निभा रही हैं। इन्हीं में महाराष्ट्र की टीम भी करनाल में आकर पूछताछ करके गई है। एसपी ने कहा कि जिसको जो जानकारी चाहिए वो उपलब्ध करवाई जा रही है। हर लेवल की जानकारी मुहैया करवा रही है।

आरसी बनाने वाले को पकड़ेंगे

उन्होंने कहा कि अभी गाड़ियां रिकवर नहीं हुई है। जो आदमी फर्जी आरसी बनता था उसको गिरफ्तार करने के लिए टीम गई है। इसके बाद ही गाड़ियों को बरामद किया जाएगा। कुछ बैंकों के डिटेल मिली है। इसमें गुरप्रीत नाम के आतंकी ने कैश डिपॉजिट फिरोजपुर से किए हैं। आरोपियों को फिरोजपुर और तरनतारन लेकर गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.