पानी खत्म होने के कारण टले ऑपरेशन, तीन दिन सहना पड़ेगा अब दर्द

सोचा था आज तो दर्द तै पैंडा छूट ज्यागा, के बेरा था तीन दिन और दर्द सहना पडैग़ा। अस्पताल में शुक्रवार नै भर्ती कर दिये थे। शनिवार नै ऑपरेशन होणा था। आज ऑपरेशन थियेटर में पाणी कौनी। डॉक्टरां नै ईब मंगलवार का नाम ले दिया। गरीब आदमी के करै।

 

इस तरह की बातें सामान्य अस्पताल में भर्ती मरीजों ने कही। चिकित्सकों की तरफ से शुक्रवार को तीन मरीजों को ऑपरेशन के लिए भर्ती किया था। दो मरीजों की हड्डी का ऑपरेशन होना था और एक मरीज का सर्जरी का ऑपरेशन होना था। शनिवार को जब सुबह चिकित्सक अस्पताल में पहुंचे तो ऑपरेशन थियेटर में पानी ही नहीं था। इससेे ऑपरेशन करने के लिए उपकरण तक तैयार नहीं हो पाए।

चिकित्सकों ने पानी के लिए अस्पताल प्रबंधन से संपर्क साधा तो पता चला की अस्पताल की टंकियों में पानी नहीं पहुंच पा रहा है। क्योंकि जलघर से आने वाली पाइप लाइन रास्ते में टूट गई है। जिसकी वजह से पानी नहीं पहुंचा। इसके बाद मरीजों को बताया गया कि अब रविवार और सोमवार की छुट्टी है अब उनके ऑपरेशन मंगलवार को ही किये जाएंगे। उसके बाद दो मरीज तो अस्पताल से छुट्टी लेकर चले गए और एक महिला मरीज अस्पताल में ही भर्ती है। दो तीन दिन से पानी की समस्या बनी हुई थी। लेकिन अब टंकियों का स्टॉक भी खत्म हो गया है।

-पैर का होना था ऑपरेशन
शहर के कानूनगो मोहल्ला निवासी सरोज पत्नी सुशील के पैर का ऑपरेशन हड्डी रोग विशेषज्ञ ने करना था। उसे वीरवार का अस्पताल में भर्ती किया गया था। सरोज को खून भी चढ़ाया गया है। उसका कहना है कि चिकित्सकों ने उन्हें सुबह बताया गया कि ऑपरेशन थियेटर में पापनी नहीं है और दो दिन की छुट्टी है। उनका ऑपरेशन अब मंगलवार को किया जाएगा। जो मरीज दो दिन घर जाना चाहते हैं। वे घर जा सकते हैं और अस्पताल में रहना चाहते हैं वे यहां रह सकते हें। उसके बाद दो मरीज तो वापस अपने घर चले गए और सरोज अभी अस्पताल में ही भर्ती है। उसे गिरने की वजह से पैर में चोट लगी हुई है। हड्डी टूटने के कारण आपरेशन कराना पड़ रहा है। ऑपरेशन से पहले किये जाने वाले टैस्ट भी हो चुके हैं।

-सीढ़ियों के दरवाजे पर लटका है ताला
सामान्य अस्पताल की टंकियों में पानी के मामले को लेकर पहले चर्चाओं में रह चुके सामान्य अस्पताल की छत पर खुलने वाले सीढ़ियों के दरवाजे पर अस्पताल प्रबंधन की तरफ से ताला लगवा दिया गया है। ताकि कोई भी व्यक्ति अस्पताल की छत पर बिना अस्पताल प्रबंध की अनुमति के टंकियों तक न पहुंच सके। क्योंकि दो से तीन बार

राज्य महिला आयोग की टीम यहां पर आ चुकी है और वह पानी की टंकियों में भरी गंदगी के कारण स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को फटकार भी लगा चुकी है। इसके बाद अब विभाग की तरफ से सीढ़ियों के दरवाजे पर ताला लगवा दिया गया है।

वर्जन
आपरेशन थियेटर में पानी नहीं होने के कारण तीन आपरेशन रद्द करने पड़े हैं। जलघर से आने वाली पाइप लाइन टूटने के कारण परेशानी आई हुई है। मंगलवार को आपरेशन किये जाएंगें।
– डॉ. परमेंद्र फौगाट, हड्डी रोग विशेषज्ञ, झज्जर।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *