अगले पांच दिन का मौसम : चक्रवात तूफान की संभावना, जानिए कहां हो सकती है बारिश और किन राज्यों में हीट वेव की चेतावनी?

Spread the love

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने छह मई को चक्रवात की संभावना जताई है। इस चक्रवात तूफान को असानी कहा जाएगा। यह नाम श्रीलंका ने दिया है। अगर चक्रवात तूफान पूरा आकार लेने में सफल होता है तो लगातार यह तीसरा साल होगा जब भारत के समुद्री इलाकों में तूफान आएगा। इससे पहले 2020 में अम्फान तूफान ने पश्चिम बंगाल और फिर 2021 में यास तूफान ने ओडिशा को प्रभावित किया था। इस बार असानी तूफान भी ओडिशा के स्थल भाग से ही टकरा सकता है।

कैसे बढ़ेगा तूफान? 
मौसम विभाग की तरफ से जारी सूचना में कहा गया है कि उत्तरी अंडमान सागर में अब कभी भी एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बन सकता है। आज यहां कम दबाव का क्षेत्र बन सकता है। उसी समय एक अच्छी तरह से चिह्नित निम्न दबाव का क्षेत्र बन सकता है। पांच मई तक सिस्टम डीप डिप्रेशन बन सकता है और फिर छह मई को चक्रवात की संभावना है। इस दौरान तेज तूफान अराकान तट के साथ आगे बढ़ेगा।

किन-किन राज्यों को करेगा प्रभावित? 
अभी तक जो जानकारी मिली है, उसके अनुसार छह मई को दक्षिण अंडमान सागर में कम दबाव का क्षेत्र बनना तय है। इसके बाद कम दबाव का क्षेत्र अधिक सक्रिय होगा और गहरे दबाव में तब्दील होकर चक्रवात का रूप धार कर सकता है। चक्रवात काफी तेज गति से ओडिशा के तट पर लैंडफाल करेगा। हालांकि कम दबाव का क्षेत्र बनने के बाद ही स्पष्ट होगा चक्रवात का मार्ग क्या होगा इसकी रफ्तार क्या होगी।

भारतीय मौसम विभाग ने कहा है कि कम दबाव का क्षेत्र बनने के बाद ही चक्रवात की स्थिति स्पष्ट होगी। पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, मेघालय, नगालैंड, मिजोरम नॉर्थ ईस्ट इंडिया के राज्यों में इसका असर देखने को मिल सकता है। यहां तेज हवाओं के साथ भारी बारिश की संभावना है। छह मई को चक्रवात का असर दिल्ली, उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों में भी देखा जा सकता है। यहां भी तेज हवाएं चल सकती हैं।

बाकी राज्यों में कैसा रहेगा मौसम? 
मौसम विभाग के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ और प्री मानसून के एक्टिव होने की वजह से 20 से अधिक राज्यों में बूंदाबादी की संभावना बढ़ गई है। कई राज्यों में मौसम में बदलाव देखने को भी मिले हैं। पूर्वी और दक्षिणी राज्यों के साथ और मध्य भारत के राज्य में बूंदाबांदी हुई है। उत्तर प्रदेश के कुछ जिलों में बूंदाबादी सहित गरज चमक देखने को मिले।

इसी बीच मौसम विभाग ने नौ मई तक मौसम ऐसे ही रहने की संभावना जताई है। बिहार झारखंड और पश्चिम बंगाल में भी मौसम बदल गया है। यहां के कई जिलों में बारिश और बूंदाबांदी से मौसम अच्छा हो गया है। तापमान में तीन से चार प्रतिशत की गिरावट देखी गई है। राजधानी दिल्ली में भी लोगों को हीट वेब से छुटकारा मिल सकता है।

और क्या-क्या है मौसम में खास? 

  1. उत्तरी मध्य महाराष्ट्र में कल यानी पांच मई, विदर्भ में 5 से 08 मई तक हीट वेब का अनुमान है।
  2. पश्चिमी राजस्थान, मध्य प्रदेश में 6 से 8 मई के बीच और दक्षिणी पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तरी राजस्थान में 7 और 8 मई को हीट वेब का अनुमान लगाया गया है।
  3. मेघालय, सिक्किम, असम, ओडिशा, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश जैसे राज्यों में तेज हवाओं के साथ बारिश हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.