पाकिस्तान दावे से पलटा, कहा उसके कब्ज़े में सिर्फ़ अभिनंदन

भारत और पाकिस्तान के बीच जारी तनातनी के बीच पाकिस्तान ने कहा है कि उसके कब्ज़े में सिर्फ़ एक भारतीय पायलट है. इससे पहले पाकिस्तान ने दावा किया था कि उसने दो भारतीय पायलटों को पकड़ा था जिनमें से एक का इलाज चल रहा है.

उधर भारत ने भी मान लिया है कि उसका पायलट पाकिस्तान के कब्ज़े में है.

पाकिस्तानी सेना ने एक पायलट का वीडियो जारी किया था जबकि दूसरे भारतीय पायलट को सेंट्रल मिलिट्री हॉस्पिटल में भर्ती कराए जाने की बात कही थी. पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता ने दूसरे भारतीय पायलट को सेंट्रल मिलिट्री हॉस्पिटल में भर्ती कराए जाने की बात कही थी.

लेकिन दोपहर बाद भारतीय विदेश मंत्रालय ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस बात की पुष्टि की थी कि भारत का एक मिग-21 क्षतिग्रस्त हुआ और एक पायलट लापता है.

इसके बाद शाम को पाकिस्तान सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ़ गफ़ूर ने कहा कि उनके कब्ज़े में दो भारतीय पायलट नहीं बल्कि केवल एक ही भारतीय पायलट अभिनंदन हैं.

उन्होंने ट्वीट किया कि केवल एक पायलट ही पाकिस्तानी सेना की हिरासत में हैं. उन्होंने स्पष्ट किया कि विंग कमांडर अभिनंदन के साथ सेना की आचार संहिता के तहत व्यवहार किया जा रहा है.

दोपहर को भारतीय विदेश मंत्रालय की तरफ से हुए प्रेस वार्ता में प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि पाकिस्तान ने भारतीय सैनिक ठिकानों को निशाना बनाने की कोशिश की, हमारी सेना तैयार थी इसलिए उनकी कोशिश नाकाम कर दी गई.

“एरियल इनगेजमेंट में मिग-21 बाइसन ने पाकिस्तानी विमान को गिरा दिया, पाकिस्तानी साइड में उनका गिरता हुआ विमान ग्राउंड फोर्सेस ने देखा.”

उन्होंने कहा, “दुर्भाग्यवश इस इनगेजमेंट में हमारा मिग विमान गिर गया, और पायलट ‘मिसिंग इन एक्शन’ है, पाकिस्तान ने हमारे पायलट के हिरासत में होने का दावा किया है और हम उनके इस दावे की पड़ताल कर रहे हैं.”

लेकिन शाम होते होते भारतीय विदेश मंत्रालय ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि भारत ने नई दिल्ली स्थित पाकिस्तान के उच्चायुक्त को तलब कर के अपनी सीमा में पाकिस्तानी सेना के घुसने का कड़ा विरोध जताया. इसके साथ ही भारत ने पाकिस्तान से यह भी कहा कि उनके कब्जे़ में जो पायलट है उन्हें कोई नुकसान नहीं पहुंचे, उनके साथ अंतरराष्ट्रीय क़ानूनों के तहत व्यवहार किया जाए और उनकी सुरक्षित वापसी तत्काल सुनिश्चित की जाए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *