यूपी के सहारनपुर में जैश के दो संदिग्ध आतंकियों का पुलवामा से क्या कनेक्शन है?

यूपी एटीएस ने सहारनपुर के देवबंद से दो संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस की मानें तो इन आतंकियों के संबंध जैश-ए-मोहम्मद से हैं. यूपी के डीजीपी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके दोनों आतंकियों के बारे में जानकारी दी. गिरफ्तार किए गए दोनों आतंकियों में एक शाहनवाज अहमद तेली कश्मीर के कुलगाम का रहने वाला है, वहीं दूसरा आतंकी अकीब अहमद मलिक पुलवामा का रहने वाला है. पुलिस ने बताया कि शाहनवाज जैश का एक एक्टिव मेंबर है, और ये ये दोनों एक स्टूडेंट बनकर देवबंद में रह रहे थे.

डीजीपी ने इस बात की जानकारी दी कि शाहनवाज जैश-ए-मोहम्मद के लिए रिक्रूटर का काम कर रहा था. जिसके लिए वो कई बार देवबंद भी आ चुका था. पुलिस काफी लंबे समय से इन लोगों को गतिविधियों पर नज़र रखे हुई थी. पुलिस ने ये भी बताया कि शहनवाज ग्रेनेड बनाने और उसके तकनीक का एक्सपर्ट है.

ये दोनों आतंकी बिना किसी कॉलेज या इंस्टिट्यूट में एडमिशन लिए देवबंद में रह रहे थे. पुलिस ने इनके पास से 32 बोर के दो तमंचे और 30 ज़िंदा कारतूस बरामद किए हैं. इनके पास से बरामद किए गए मोबाइल में कई तरह की आतंकी गतिविधियों वाली तस्वीरें भी मिली हैं जिसकी पुलिस जांच कर रही है. पुलिस ने ये भी कहा कि पुलवामा हमले से भी इन आतंकियों के कनेक्शन हो सकते हैं.

इन दोनों आतंकियों की गिरफ्तारी वीरवार रात को हुई, जिसके बाद लगातार इनकी पूछताछ हो रही है. पुलिस ने ये भी बताया कि वो इस मामले की भी जांच कर रहे हैं कि ये रिक्रूटर का काम कितने दिनों से कर रहे थे. दूसरी बात ये कि इन दोनों ने मिलकर अभी तक कितने लोगों की भर्ती जैश के लिए की है. इनकी फंडिंग कौन कर रहा है, कौन-कौन हो सकता है इन दोनों के पीछे. आगे ये किस प्लान पर काम कर रहे थे. पुलिस ने बताया कि जम्मू कश्मीर पुलिस की मदद से पुलिस इन सभी पहलूओं की जांच कर रही है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *