गरिमामयी ढंग से मनाया जाएगा बेरी में गणतंत्र दिवस समारोह 

बेरी,  (हिमांशु शर्मा)- उपमंडल मुखयालय बेरी पर 26 जनवरी गणतंत्र दिवस समारोह राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय बेरी के प्रांगण में गरिमामयी ढंग से मनाया जाएगा। एसडीएम राहुल नरवाल ने सोमवार को अपने कार्यालय में संबंधित अधिकारियों की बैठक ली और समारोह को भव्य ढंग से मनाने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
एसडीएम राहुल नरवाल ने संबंधित विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक में कहा कि गणतंत्र दिवस समारोह देश की एकता व अखंड़ता के साथ ही संविधान की संरचना का शुभ दिन है, ऐसे में इस दिवस को हर वर्ष की भांति इस बार भी गरिमामयी ढंग से मनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि समारोह को भव्य बनाने के लिए प्रशासनिक स्तर पर पूरी तैयारी की जाए। गणतंत्र दिवस समारोह के अवसर पर शहीद विरांगनाओं, स्वतंत्रता सेनानियों,वीर सैनिकों और पूर्व सैनिकों का स मान किया जाएगा और विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय भूमिका निभाने वालों को भी स मानित किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि देश के इस पावन समारोह को मनाने के लिए सभी विभाग आपसी तालमेल के साथ टीम के तौर पर कार्य करें। उन्होंने कहा कि गणतंत्र दिवस समारोह के अवसर पर सामाजिक समरसता का संदेश देती तथा सरकार की जनहितकारी नीतियों के प्रति जागरूक करती झांकियों का भी प्रदर्शन किया जाएगा।
एसडीएम ने नगर पालिका अधिकारियों को निर्देश दिए कि मु य कार्यक्रम स्थल राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय बेरी व आस-पास के क्षेत्र में सफाई व्यवस्था निरंतर सुनिश्चित की जाए। लोक निर्माण विभाग (भवन एवं सड़कें) आस-पास की सड़कों की मर मत करें तथा कार्यक्रम स्थल की दीवारों पर रंग-रोगन व सफेदी कराने का कार्य कार्यक्रम से पूर्व ही किया जाए। शिक्षा, महिला एवं बाल विकास विभाग मिलकर कार्यक्रम स्थल पर फूलों की सजावट व रंगोली तैयार कराएंगे। समारोह की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुलिस विभाग को भी उन्होंने आवश्यक निर्देश दिए। समारोह स्थल पर समारोह के दिन राष्ट्रीय ध्वज, परेड,
मार्च पास्ट व संबंधित इंतजामों की जि मेवारी पुलिस विभाग की रहेगी। स्कूल व कालेज की एनसीसी टुकडिय़ां भी मार्च पास्ट करेंगी। पीटी-डंबल शो व सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए शिक्षा विभाग के अधिकारी समन्वय स्थापित करते हुए टीमों का चयन करेंगे। उन्होंने कहा कि समारोह में आयोजित होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों में देशभक्ति का जज्बा देखने को मिले इसके लिए विद्यार्थियों को कार्यक्रमों की प्रस्तुति के लिए तैयार किया जाए। सांस्कृतिक कार्यक्रमों में शहर के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सहित अन्य निजी शिक्षण संस्थानों के विद्यार्थियों की भी भागीदारी सुनिश्चित रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *