रक्षामंत्री ने की बंगाल में 23 तारीख तक सुरक्षाबल तैनात रखने की मांग, जताई नरसंहार की आशंका

Spread the love

तृणमूल कांग्रेस द्वारा केंद्रीय सुरक्षा बल पर पश्चिम बंगाल में बीजेपी नेताओं के इशारे पर काम करने और मतदाताओं को प्रताड़ित व धमकाने वाले बयान को बीजेपी ने बेबुनियाद बताया है। वहीं रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने राज्य में नरसंहार होने की आशंका जताई है और आदर्श आचार संहिता के 23 मई को खत्म होने तक चुनाव आयोग से केंद्रीय सुरक्षाबलों की तैनाती करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि नतीजे पक्ष में न रहने पर ममता बनर्जी नरसंहार करा सकती हैं।

दिल्ली में बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण ने भी चुनाव आयोग से आदर्श आचार संहिता लागू रहने तक पश्चिम बंगाल में केंद्रीय बलों को तैनात रखने का आदेश देने का अनुरोध किया है।  उन्होंने आशंका जतायी है कि चुनाव के बाद तृणमूल कांग्रेस मतदाताओं के एक धड़े को निशाना बना सकती है।

तृणमूल कांग्रेस के नेता डेरेक ओ ब्रायन द्वारा बीजेपी पर केंद्रीय सुरक्षा बल के पश्चिम बंगाल में नेताओं के इशारे पर काम करने और मतदाताओं को प्रताड़ित व धमकाने का आरोप लगाया है। बीजेपी ने आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा है कि तृणमूल कांग्रेस के समर्थन वाले गुंडे मतदाताओं को धमका रहे हैं। एक बयान में तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि पश्चिम बंगाल शांतिपूर्ण मतदान चाहता है, जबकि बीजेपी ऐसा नहीं चाहती है।

उन्होंने कहा, ‘‘आज बंगाल में केंद्रीय बल आम लोगों खासकर वंचित लोगों को प्रताड़ित कर रहे हैं और धमका रहे हैं। दिव्यांग लोगों को भी प्रताड़ित किया जा रहा है। केंद्रीय बल मतदाताओं को धमकी दे रहे हैं कि कमल दबाओ नहीं तो ठोक देंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मीडिया के पास इस तरह के वीडियो हैं। कुछ सार्वजनिक भी हो चुके हैं।’’ गौरतलब है की आज लोकसभा चुनाव 2019 के अंतिम चरण पर मतदान हुआ। इस दौरान पश्चिम बंगाल में कई जगह से हिंसा और तोड़फोड़ की खबरें सामने आई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *