इस साल फीस नहीं बढ़ाएंगे प्राइवेट स्कूल?

चंडीगढ़. प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स के पेरेंट्स ने प्रोटेस्ट कर फीस न लेने की मांग उठाई, लेकिन चंडीगढ़ प्रशासन ने उन्हें मामूली राहत देकर अपना पल्ला झाड़ लिया। प्रशासन ने कहा है कि कोई भी प्राइवेट स्कूल इस साल फीस नहीं बढ़ाएगा। अब इसे पेरेंट्स के लिए चंडीगढ़ प्रशासन का ‘लॉलीपॉप’ ही कहेंगे, क्योंकि फीस तो देनी ही पड़ेगी।
प्रशासन ने बुधवार को जो ऑर्डर किए हैं, उसके तहत 2020-21 के एकेडेमिक सेशन के दौरान प्राइवेट स्कूल बढ़ी हुई फीस नहीं ले सकते। जो ट्यूशन फीस 2019-20 के एकेडेमिक ईयर में ली थी, वही ट्यूशन फीस इस साल लेनी होगी। इससे यह साफ हो गया है कि स्कूल न तो फीस बढ़ा सकते हैं और न ही ट्यूशन फीस के अलावा किसी तरह का अन्य चार्ज पेरेंट्स से ले सकते हैं। स्कूलों को निर्देश दिए गए हैं 15 जून से पहले अपने फीस स्ट्रक्चर और खासतौर पर ट्यूशन फीस की पूरी जानकारी स्कूल की वेबसाइट पर देनी होगी।

जानकारी प्रशासन को 15 जून तक देनी होगी। यह आदेश प्रशासक की ओर से डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी के तहत लिए गए हैं। एजुकेशन डिपार्टमेंट के आदेश के मुताबिक पेरेंट्स को 31 मई तक अप्रैल-मई महीने की फीस जमा करवानी थी। ज्यादातर पेरेंट्स स्कूलों को बढ़ी हुई फीस जमा करवा चुके हैं। कुछ स्कूल ऐसे हैं, जिन्होंने 10 से 12 परसेंट तक फीस बढ़ा दी थी।

अब प्रशासन ने बढ़ी हुई फीस न लेने का आदेश तो जारी कर दिया, लेकिन जो स्कूल अप्रैल-मई की बढ़ी हुई फीस ले चुके हैं, वह कैसे एडजस्ट होगी, यह एक सवाल है। जून की फीस जमा करवाने की आखिरी तारीख 15 जून है और स्कूल को जल्द से जल्द पुराना फीस स्ट्रक्चर तो बताना ही होगा। साथ ही कितनी एडजस्टमेंट फीस में होगी, यह भी बताना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *