वाराणसी में शुरू हुआ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मेगा रोड शो

वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मेगा रोड शो शुरू हो गया है और मोदी के आगमन से पहले ही पूरी काशी मोदीमय हो गयी थी। काशी हिंदू विश्वविद्यालय के बाहर मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद मोदी का रोड शो शुरू हुआ है और इस दौरान मोदी के काफिले पर फूलों की बारिश की जा रही है। इसके बाद वह दशाश्वमेध घाट तक रोड शो करेंगे और गंगा आरती में शामिल होंगे।पीएम मोदी एक गाड़ी पर सवार हैं, उनके पीछे एक ट्रक में सीएम योगी आदित्यनाथ के अलावा बीजेपी के बड़े नेता भी शामिल हैं।

पीएमनरेंद्र मोदी रोड शो

> पीएम मोदी का यह रोड शो करीब 6 किमी लंबा है। आपको बता दे कि रोड शो के बाद वो दशाश्वमेध घाट पर गंगा आरती में शामिल होंगे। पीएम मोदी राजेंद्र प्रसाद घाट पर बनाए गए मंच से लोगों को संबोधित करेंगे।

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रोड शो के दौरान वाराणसी की सड़कों पर चारों तरफ जनसैलाब उमड़ा। की जा रही है फूलों की बारिश। प्रधानमंत्री मोदी की झलक पाने के लिए घरों, दुकानों और इमारतों की छतों पर जुटी भीड़।

> वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) के बाहर पं. मदन मोहन मालवीय को श्रद्धांजलि दी !

> रोड शो से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया है. उन्होंने लिखा कि बांदा और दरभंगा में रैली करने के बाद अब मैं काशी में आ रहा हूं. हर हर महादेव!

भाजपा की काशी क्षेत्र के मीडिया प्रभारी नवरतन राठी ने बताया कि करीब सात किलोमीटर के रोड शो के रास्ते में 101 जगहों पर विभिन्न समुदायों एवं प्रांतों के लोगों द्वार स्वागत की तैयारी की गई है। रोड शो के रास्ते में विभिन्न धर्म एवं संस्कृतियों के प्रदर्शन से ‘लघु भारत’ का नजारा देखने को मिलेगा।

लंका, संत रविदास द्वार, मुमुक्षू भवन, असि, भदैनी, सोनारपुरा, मदनपुरा, गोदौलिया एवं दशाश्वमेध घाट तक के रास्ते में हजारों लोग अपने पारंपरिक पोशाक एवं रिवाज के मुताबिक श्री मोदी का अभिनंदन करेंगे।

श्री मोदी के कार्यक्रम को ‘ऐतिहासिक’ बनाने के लिए भाजपा प्रमुख अमित शाह, पार्टी के उत्तर प्रदेश के प्रभारी केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा, रेल मंत्री पीयूष गोयल समेत अनेक राष्ट्रीय नेता यहां डेरा जमाये हुए हैं।

अधिकारिक सूत्रों ने बुधवार को बताया के श्री मोदी प्रधानमंत्री के पद पर रहते हुए नामांकन पत्र दाखिल करने के लिए आने वाले पहले राजनेता होंगे। इस वजह उनके नामांकन एवं उससे पूर्व उनके चुनावी कार्यक्रमों के दौरान सुरक्षा के अभूतर्व इंतजाम किये गए हैं।

शहरी के लंका से दशाश्वमेध घाट तक स्थानीय पुलिस, पीएसी एवं केंद्रीय अर्द्घसैनिक बलों के 10 हजार से अधिक जवानों को जगह-जगह तैनात किया गया है। दशाश्वमेध घाट कार्यक्रम स्थल पर जल, थल एवं आकाश से सुरक्षा निगरानी की जा रही है। रोड शो के रास्ते एवं घाट पर ड्रोन कैमरों से निगरानी की जा रही है। सादे पोशाक में बड़ संख्या में सुरक्षा कर्मी तैनात किये गए हैं।

इस शो में केंद्र सरकार के कई वरिष्ठ मंत्रीगण, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और भाजपा के कई वरिष्ठ नेतागण भी उपस्थित रहेंगे। वही बता दे कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नामांकन में शामिल होंगे शामिल,नीतीश कुमार,उद्धव ठाकरे,राम विलास पासवान और बादल।

पांच स्तरीय अभेद्य सुरक्षा घेरे में रहेंगे मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच स्तरीय अभेद्य सुरक्षा घेरे में रहेंगे। उनकी सुरक्षा व्यवस्था में एसपीजी, एनएसजी व एटीएस कमांडो, केंद्रीय खुफिया इकाई के अलावा पुलिस, पीएसी और सेंट्रल पैरामिल्रिटी फोर्स के 10 हजार से अधिक जवान तैनात किए गए हैं।

वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अजय राय से होगा मुकाबला

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय राय एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से चुनावी मुकाबला करेंगे। पार्टी सूत्रों ने गुरुवार को यहां बताया कि कांग्रेस ने पिंडरा के पूर्व विधायक अजय राय को अपना उमीदवार बनाया है। इससे पहले कांग्रेस उपाध्यक्ष एवं पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा के चुनाव लड़ने की अटकलें लगायी जा रही है।

कई बार विधायक रहे श्री राय के नाम की घोषणा के साथ ही प्रियंका के चुनाव लड़ने की अटकलों पर विराम लग गया है। उन्होंने वर्ष 2014 में विधायक रहते हुए वाराण्सी संसदीय क्षेत्र से मोदी से चुनावी मुकाबला किया था।

गौरतलब है कि मीडिया में पिछले कुछ दिनों से अटकले लगायी जा रही थी कि श्रीमती गांधी वाराणसी से चुनाव लड़गी और श्री मोदी को टक्कर देगी लेकिन श्री राय के उम्मीदवार बनने से सभी अटकलों पर विराम लग गया है।

वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में वाराणसी से श्री मोदी के खिलाफ आम आदमी पार्टी के मुख्य संयोजक अरविंद केजरीवाल और कांग्रेस के श्री राय लड़ थे। श्री मोदी ने श्री केजरीवाल को 3,71,784 वोटों से मात दी थी। श्री मोदी को कुल 5 लाख 81 हजार से ज्यादा वोट मिले थे।

श्री केजरीवाल को दो लाख 90 हजार वोट मिले थे। श्री राय को करीब 76 हजार वोट मिले थे। इस बार साथ मिलकर चुनाव लड़ रहे बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गयी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *