लोकसभा में बहुमत के आसार नहीं फिर भी बनेगी भाजपा गठबंधन की सरकार:- बाबा-भागलपुर

सत्ता के सात चरण में हुये लोकसभा चुनाव  2019 के परिणाम के सम्बन्ध में सातवें चरण की समाप्ति के दिन विभिन्न मिडिया चैनलों पर एग्जिट पोल आना शुरू हो गया है। इसमें भाजपा गठबंधन (एनडीए) को बहुमत के आंकड़ों को पार करते हुए तो कुछेक चैनलों द्वारा बहुमत के करीब यथा 267 से 365 सीटों के आने का अनुमान दर्शाया जा रहा है। देश के विभिन्न प्रदेशों के ज्योतिष भी भाजपा गठबंधन (एनडीए) को 300 से 350 सीटों के प्राप्त होने की भविष्यवाणी कर रहे हैं। इन सब ज्योतिष से अलग बिहार के अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर ख्याति प्राप्त ज्योतिष योग शोध केन्द्र, बिहार के संस्थापक सह भविष्यवेता एवं हस्तरेखा विशेषज्ञ दैवज्ञ पं. आरके. चौधरी उर्फ बाबा-भागलपुर ने एक अलग ही भविष्यवाणी की है। जिसमें उन्होंने भाजपा गठबंधन को बहुमत के आंकड़े से दूर रहने की बात कही है। बाबा-भागलपुर की भविष्यवाणी आज प्रासंगिक है और उनको कमतर आंकना गलत हो सकता है। दरअसर कुछ माह पहले तीन राज्यों  छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान को लेकर जो भी भविष्यवाणी की थी जो अक्षरश: सही साबित हुई। एग्जिट पोल कुछ और बयां कर रहे थे और बाबा-भागलपुर की भविष्यवाणी एग्जिट पोल को गलत साबित करते हुए अक्षरश: सच साबित हो रही थी। इससे पहले भी उन्होंने अब तक जो भी भविष्यवाणी की है वो सच ही साबित हुई है। ऐसा उनकी भविष्यवाणी पर नजर रखने वालों का कहना है।
अब बात करें वर्तमान लोकसभा चुनाव को लेकर तो बाबा-भागलपुर के डेढ़ साल पहले की गई भविष्यवाणियों में।वर्णित है कि भारतीय जनता पार्टी अपने पिछले प्रदर्शन को 2019 के लोकसभा चुनाव में केन्द्र और राज्य पर दोहराने में नाकामयाब रहेगी। लेकिन प्रदर्शन पूर्णतः निराशाजनक नहीं रहेगा। विपक्षी पहले से मजबूत अवश्य होंगे। किन्तु भाजपा भी बहुत हद तक गठबंधन के सहयोग से विरोधियों का सामना करने में सक्षम रहेगी। इस संबंध में बाबा भागलपुर ने बताया कि आकाश मंडल में दैनिक ग्रहों की स्थिति के फलस्वरूप विभिन्न अशुभ योग और कुछेक शुभ योग के फलाफल से यह प्रतीत हो रहा है कि भाजपा गठबंधन (एनडीए) के लिए लोकसभा चुनाव कठिन रहने वाला है। चुनाव के परिणाम के दृष्टिकोण से श्री नरेन्द्र मोदी व भाजपा के चाणक्य अमित शाह की जन्मकुण्डलियों का अध्ययन आवश्यक हो जाता है। उनकी कुंडली में उत्तम स्थिति का योग नहीं है तथा ग्रह-गोचर व महादशा-अन्तर्दशा के फलाफल से ऐसा ज्ञात हो रहा है कि सत्ता के सात चरण के लोकसभा चुनाव 2019 में श्री नरेन्द्र मोदी जी की सरकार को पूर्ण बहुमत मिलने के आसार नहीं है तथा श्री नरेन्द्र मोदी की ग्रह-गोचर व ग्रहों की प्रतिकूल युति सम्बन्ध के क्रम में विभिन्न प्रकार की कठिनाइयों से गुजरना पड़ सकता है, व्यक्तिगत तौर पर मोदी जी को असामान्य/अप्रत्याशित क्षति का भी सामना करना पड़ सकता है। लेकिन येन-केन-प्रकारेण सरकार भाजपा गठबंधन  (एनडीए) की बन सकती है तथा कांग्रेस गठबंधन एक मजबूत और सशक्त विपक्ष के रूप में प्रदर्शन कर सकती है। दूल्हे के साथ बारात सज रही है। ग्रहों के खेल में हल्की सम्भवाना है कि कोई नया चेहरा दूल्हा बन जाय तो ज्योतिर्विद्या के आलोक में आश्चर्यजनक नहीं होगा। अब 23 मई 2019 को चुनाव परिणाम आने के बाद ज्ञात होगा कि एग्जिट पोल का आंकड़ा सही है कि विभिन्न प्रदेशों के ज्योतिषयों की भविष्यवाणी या फिर बाबा-भागलपुर की भविष्यवाणी पर मोहर लगती है। अब तक बाबा-भागलपुर की एक के बाद एक भविष्यवाणी शत-प्रतिशत सही साबित हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *