स्कूल के शिक्षक जोगिंद्र संधु ने जरुरत मंद लडकी के लिए रक्तदान किया

सच्ची सेवा ही मनवता का सच्चा धर्म बनता है स्वच्छा से जो व्यक्ति सामाजिक कार्य करता है तो उसे आत्मिक संतुष्टि मिलती है और समाज का भी भला होता है। ऐसे में कोथकला निवासी सरकारी स्कूल के शिक्षक जोगिंद्र संधु ने सैनीवास की जरुरत मंद लडकी के लिए सिंगल डोनर ब्लैड उपलब्ध करवाया है ब्लैड बैंड के मुकेश ने बताया कि सैनीवास की रहने वाली 19 वर्षीय लडकी को पिछले कुछ सालों में खून की कमी हो जाती है आज इस लडकी को खून की काफी जरुर थी और जोंगिंद्र ने अपनी स्वच्छा से हिसार में हरियाणा ब्लैड बैंक के माध्यम से ब्लड डोनेट करवाया किया इसमें खून के साथ प्लेटलेट लिए जाते है। जोगिद्र ने लोगों व प्रशासन से अपील है कि इस लडकी को समय समय और खून की जरुरत पडती रहती इसलिए समाज सेवी लोग लडकी की मदद के लिए आगे जरुर आए। खून देने पर लडकी के परिजनों ने जोगिंद्र संधु का आभार व्यक्त किया है। इससे पूर्व जोगेंद्र संधु ने कोविड-19 को देखते हुए  हिसार में जिंदल चौक डाबडा चौक जिंदल रोड तोशाम रोड पर तैयार किए मास्ट बटवाए गए। जोगिदं्र संधु ने रिक्शा चालकों, रेडडी चालको गाडी चालकों रोड पर चलने वाले आम लोगों को मास्ट उलब्ध करवाए। शिक्षक जोगिंद्र संधु ने बताया घर पर रहने वाली ग्रहाणियों ने उन्हें छह हजार मास्क दिए थे जिनकों बनाने के कुछ सामग्री महिलाओं को मैने उन्हें उपलब्ध करवाई थी। ये छह हजार मास्क उन्होंने खुद अकेले जाकर जरुरत के लोगों को उपलब्ध गए है। जोगिद्र ने कहा कि कोरोना महामारी को रोकने के लिए अभी कोई दवा नही बनी है इसलिए लोगों को घरो में रहने चाहिए घर से जरुरी काम आते समय मास्क पहनने चाहिए तथा हाथों को 15-20 मिनट बाद सैनीटाइजर का इस्तेमाल करना चाहिए। बच्चों की सुरक्षा के लिए उन्हें घर बाहर न निकलने दे घर में स्कूल का काम करवाए। उल्लेखनीय है कि प्राथमिक  शिक्षक जोगिंद्र संधु ने कोरोने से लडने इसमें अपना विषेश योगदान करने के लिए अपना एक महीने का वेतन कोविड-19 मुख्यमंत्री राहत कोष में चुके है।  स्कूली बच्चों को नई पुरानी किताबे दिलवाने में भी अच्छा योगदान दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *