पुलवामा आतंकवादी हमले में कथित संलिप्तता में जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी को किया गिरफ्तार

नयी दिल्ली,जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी को शुक्रवार को गिरफ्तार किया। अधिकारियों ने बताया कि 22 वर्षीय शाकिर बशीर मार्गे ने आत्मघाती बम हमलावर आदि अहमद डार को शरण और साजो-सामान संबंधी मदद मुहैया करायी थी। मार्गे पुलवामा के काकापोरा के हाजीबल का रहने वाला है और उसकी फर्नीचर की दुकान है। पाकिस्तानी आतंकवादी मोहम्मद उमर फारूक ने 2018 के मध्य में मार्गे की डार से पहचान करवायी थी और वह जैश के लिए काम करने में पूरी तरह जुट गया था। प्रारंभिक पूछताछ में मार्गे ने बताया कि उसने कई बार जैश के आतंकवादियों के लिए हथियार, विस्फोटक और नकदी जुटायी व ये चीजें उन तक पहुंचायी। इन आतंकवादियों में पुलवामा हमले में शामिल आतंकी भी शामिल थे। मार्गे ने यह भी खुलासा किया कि उसने डार और पाकिस्तानी आतंकवादी मोहम्मद उमर फारूक को अपने घर में 2018 के आखिरी दिनों से लेकर फरवरी, 2019 के हमले तक शरण दी तथा देशी बम बनाने में उनकी सहायता की। अधिकारियों के अनुसार मार्गे की दुकान लेथपोरा पुल के समीप है और मोहम्मद उमर फारूक की सलाह पर उसने जनवरी, 2019 में जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर सीआरपीएफ काफिले की आवाजाही की रेकी करनी शुरू की और उसने ही के काफिले बारे मोहम्मद उमर एवं डार को बताया था। अधिकारियों के मुताबिक मार्गे ही फरवरी, 2019 में मारुति इको कार में बदलाव करने और उसमें देशी बम फिट करने में शामिल था। पिछले साल 14 फरवरी को पुलवामा में जम्मू से आ रहे सीआरपीएफ के एक काफिले के वाहन से जैश आतंकवादी डार ने विस्फोटक लदा वाहन टकराकर हमला किया था। इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गये थे। मार्गे को शुक्रवार को जम्मू में विशेष एनआईए अदालत में पेश किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *