प्रियंका वाड्रा का आरोप, यूपी सरकार ने सेवा कार्य से विचलित होकर यूपी कांग्रेस अध्यक्ष को भेजा जेल

कांग्रेस महासचिव व उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि यूपी सरकार ने कोरोना लॉकडाउन में प्रवासी श्रमिकों और जरूरतमंदों की सेवा में लगे कांग्रेसजन के सेवा कार्य से विचलित होकर यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को जेल में डाल दिया। उन्होंने यूपी सरकार को चुनौती देते हुए कहा कि मुकदमे लगाने वाले शायद ये भूल गए हैं कि ये महात्मा गांधी की पार्टी है। सेवा हमारे मूल में है और डरना हमारी फितरत नहीं।कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने शनिवार को ट्वीट कर कहा कि ‘पिछले 60 दिनों से यूपी कांग्रेस के कार्यकर्ता दिन-रात लगकर प्रवासी श्रमिकों और जरूरतमंदों की सेवा में लगे हैं। कांग्रेस के सिपाही द्वारा राशन, खाना और दवाई पहुंचाने का काम, श्रमिकों को भोजन-पानी देने का काम और उन्हें घर वापस लाने की सुविधा करने का काम सेवाभाव से कर रहे हैं।’प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि ‘उत्तर प्रदेश कांग्रेस की सक्रियता से अब तक 67 लाख लोगों की मदद हो चुकी है।अजीब बात है कि यूपी सरकार ने इस सेवा कार्य से विचलित होकर हमारे प्रदेश अध्यक्ष को जेल में डाल दिया। अलग-अलग जिलों में हमारे कार्यकर्ताओं पर मुकदमे लगाए गए हैं। गुरुवार को 50 हजार उत्तर प्रदेश कांग्रेस के कार्यकर्ता और नेताओं ने फेसबुक लाइव पर अपनी एकजुटता दिखाई, शुक्रवार को भी सभी जिलों में सरकार को ज्ञापन दिया।’ उन्होंने कहा कि ‘मुकदमे लगाने वाले शायद ये भूल गए हैं कि ये महात्मा गांधी की पार्टी है। सेवा हमारे मूल में है और डरना हमारी फितरत नहीं। सेवा कार्यों को और तेज करेंगे।’बता दें कि यूपी पुलिस ने अन्य राज्यों से प्रवासी श्रमिकों और कामगारों को लाने के लिए बसों की सूची में फर्जीवाड़ा करने के आरोप में यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को गिरफ्तार किया है। उन्हें लखनऊ पुलिस ने बुधवार को आगरा से गिरफ्तार किया गया था। उन्होंने गुरुवार को गोसाईगंज स्थित जिला जेल में स्थानांतरित कर दिया गया। जेल में बने क्वारंटाइन बैरक में उन्हें रखा गया है, जहां उनसे कोई मुलाकात नहीं कर पाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *