हरियाणा पुलिस ने कोविड-19 लाकॅडाउन में अपराधियों, नशा तस्करों और शराब माफिया पर कसा शिकंजा

चण्डीगढ़, 13 मई
हरियाणा पुलिस ने लाकॅडाउन के दौरान हिसार रेंज में (हिसार, जींद, सिरसा, फतेहाबाद और पुलिस जिला हांसी) अपराधियों पर शिकंजा कसते हुए 5 मोस्ट-वांटेड सहित विभिन्न जघन्य अपराधों में शामिल 48 अन्य अपराधियों को भी गिरफ्तार किया है।
             इसके अतिरिक्त, पुलिस ने लॉकडाउन अवधि के दौरान हिसार रेंज में अब तक 972 किलोग्राम मादक पदार्थ जब्त करने के साथ-साथ तस्करी की जा रही  2.04 लाख से अधिक बोतल शराब भी बरामद की है।
             पुलिस महानिदेशक (डीजीपी), हरियाणा श्री मनोज यादव ने आज यहां इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस मुख्यालय द्वारा सभी फील्ड इकाइयों को लाकॅडाउन में अत्यधिक सतर्कता बरतते हुए अपराधियों को सलाखों के पीछे भेजने के लिए पुलिस की उपस्थिति बढ़ाने के निर्देश दिए थे। पुलिस ने नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने हेतू लॉकडाउन को सख्ती से लागू करते हुए राज्य में प्रभावी पुलिसिंग के साथ गश्त तेज की, जिसके परिणाम सकारात्मक रहे हैं  हिसार, हांसी और जींद जिले से एक-एक मोस्ट-वांटेड अपराधी को काबू किया गया जबकि सिरसा से 2 अपराधी पुलिस ने दबोचे। विभिन्न जघन्य अपराधों में शामिल अन्य 48 अपराधियों में 16 हिसार से, 8 हांसी से, 9 जींद से, 13 सिरसा से तथा 2 फतेहाबाद से काबू किए गए
डीजीपी ने बताया कि लाकॅडाउन में मादक पदार्थ तस्करी में शामिल लोगों पर शिकंजा कसते हुए हमने हिसार रेंज में 151 मामले दर्ज कर 261 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों के कब्जे से 9 किलोग्राम 750 ग्राम हेरोइन, 3 किलोग्राम 402 ग्राम अफीम, 115 किलोग्राम 49 ग्राम अफीम के पौधे, 745 किलोग्राम 73 ग्राम चुरा पोस्त, 97 किलोग्राम 691 ग्राम गांजा/चरस, 9 ग्राम 13 मिलीग्राम स्मैक, 7220 नशीले कैप्सूल, 21185 प्रतिबंधित गोलियां तथा 90 सिरप की बोतलें जब्त की गई हैं।
           इसी तरह, हिसार रेंज के पांच जिलों में शराब माफिया पर नकेल कसते हुए आबकारी अधिनियम के तहत 650 मामले दर्ज कर 817 आरोपियों को शराब की अवैध बिक्री या परिवहन के आरोप के काबू किया गया है। लॉकडाउन के बाद से अब तक पुलिस ने 39712 बोतल अंगे्रजी शराब, 59315 बोतल देसी शराब, 100494 बोतल बीयर, 5174 बोतल अवैध शराब और 31,878 लीटर लाहन, (अवैध शराब बनाने के लिए कच्चा माल) जब्त किया है। साथ ही, अवैध शराब बनाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले 45 स्थानों को भी नष्ट किया है।
           डीजीपी ने बताया कि हांसी जिले से 5000 रुपये के ईनामी नशा सप्लायर को भी काबू कर छह मामलों को सुलझाया गया है। 4 आरोपियों की गिरफ्तारी के साथ, पुलिस ने भारतीय स्टेट बैंक, चैटाला, सिरसा के ग्राहक सेवा केंद्र में हुई डकैती की वारदात का भी पर्दाफाश किया है। इसके अतिरिक्त, सिरसा पुलिस ने डिंग पुलिस स्टेशन में दर्ज एक मामले को सुलझाते हुए 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 17 लाख 50 हजार रुपये का सोना भी बरामद किया है।
          उन्होंने कहा कि लाकॅडाउन में भी पुलिस की टीमें मोस्ट-वांटेड और अन्य कुख्यात अपराधियों पता लगाकर उन्हें गिरफ्तार करने के लिए लगातार प्रयासरत हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *