सोनीपत – शराब माफिया भूपेन्द्र चार दिन के पुलिस रिमांड पर

एसआईटी ने शराब तस्कर भूपेंद्र को गिरफ्तार करने के लिए उसके चंडीगढ़ स्थित फ्लैट पर 9 मई शनिवार को रेड डाली तो फ्लैट से लगभग 97 लाख रुपए, सोने के गहने, दो हथियार व मोबाइल फोन बरामद किए
 समाचार क्यारी /सोनीपत – खरखौदा शहर के बाईपास पर शराब के गोदाम में जांच के बाद 5696 पेटी शराब कम पाए जाने के बाद एसपी जशनदीप रंधावा ने पुलिस विभाग के कर्मचारियों व शराब तस्कर के खिलाफ सख्त कदम उठाने के आदेश दिए थे। इस दौरान डीएसपी हरेंद्र सिंह द्वारा पूरी जांच करके विभाग को जानकारी दी गई थी। यह मामला जब प्रदेश गृह मंत्री अनिल विज के संज्ञान में आया तो उन्होंने तुरंत एसआईटी द्वारा जांच करने के आदेश दिए व प्रदेश के उच्च अधिकारियों को नियुक्त करके मुख्यमंत्री से तह तक पहुंचने की सिफारिश की है। अब एसआईटी द्वारा निरंतर जांच की जा रही है। एसआईटी ने शराब तस्कर भूपेंद्र को गिरफ्तार करने के लिए उसके चंडीगढ़ स्थित फ्लैट पर 9 मई शनिवार को रेड डाली तो फ्लैट से लगभग 97 लाख रुपए, सोने के गहने, दो हथियार व मोबाइल फोन बरामद किए गए थे। लेकिन भूपेंद्र ने शनिवार देर रात्रि को पुलिस के सामने पेश होकर गिरफ्तारी दे दी।  पुलिस उससे तस्करी के मामले में महत्वपूर्ण साक्ष्य एकत्रित करेगी। पुलिस अब शराब को खुर्द-बुर्द करने के मामले में दर्ज दूसरे मुकदमे के आरोपी तत्कालीन पुलिस कर्मियों की तलाश में दबिश देगी। साथ ही सामने आया है कि आरोपी शराब के लेबल बदलकर उसे महंगे लेबल लगाकर पंजाब व अन्य राज्यों में सप्लाई करता था।
एसआईटी जांच अधिकारी डीएसपी जितेंद्र कुमार का कहना है कि सबसे पहले इस मामले की सूचना एसपी साहब के पास आई थी। उन्होंने तुरंत डीएसपी खरखौदा द्वारा मामले की जांच के आदेश दे दिए थे। जांच में गोदाम से 5696 पेटी कम पाई गई थी। बाद में जांच के लिए एसआईटी का गठन करके जांच की जा रही है। शनिवार को एसआईटी ने चंडीगढ़ स्थित भूपेंद्र के फ्लैट पर रेड डाली थी। जहां से काफी मात्रा में नगद राशि, गहने, दो हथियार व मोबाइल फोन बरामद किए थे। जब भूपेंद्र पर दबाव बना तो रात्रि को वह पुलिस के सामने पेश हो गया। जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है। इस मामले में जो भी जांच में दोषी पाया गया। उसके विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी। जांच में 11 पुलिसकर्मियों के नाम भी सामने आ रहे हैं। जांच में जिन कर्मचारियों के खिलाफ सबूत पाए गए उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा। एसआईटी की टीमें अन्य आरोपियों की तलाश कर रही

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *