हॉकी आइकाॅन बलबीर सिंह सीनियर का सोमवार शाम पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया

चंडीगढ़.  96 वर्षीय बलबीर सिंह कई हेल्थ इशू थे। इस मौके पर पंजाब के खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी ने घोषणा की कि मोहाली स्टेडियम का नाम दिग्गज खिलाड़ी के नाम पर रखा जाएगा। तीन बार के ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता का यहां एक इलेक्ट्रिक श्मशान में अंतिम संस्कार किया गया। उनके नाती  कबीर ने उनके अंतिम संस्कार की विधियों को पूरा किया। बलबीर सिंह की एक बेटी सुशबीर और तीन बेटे – कंवलबीर, करनबीर और गुरबीर हैं। उनके बेटे कनाडा में बसे हुए हैं और वह अपनी बेटी सुशबीर और नाती कबीर के साथ यहां रहते थे। 

अंतिम संस्कार में मौजूद सोढ़ी ने कहा कि सिंह का निधन न केवल खेल जगत के लिए, बल्कि पूरे देश के लिए भी एक बड़ा झटका है। उन्होंने कहा कि मोहाली हॉकी स्टेडियम का नाम सिंह के नाम पर रखा जाएगा।इस मौके पर भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान परगट सिंह भी मौजूद थे।पंजाब सरकार और चंडीगढ़ प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों ने सिंह के की पार्थिव देह को श्रद्धासुमन भेंट किए।  पुलिस कंटिनजेंट ने दिवांगत आत्मा के सम्मान में तीन वॉली शॉट लगाए। सिंह का पार्थिव शरीर पहले  फोर्टिस अस्पताल से सेक्टर 36 स्थित उनके आवास पर लाया गया था, जहां से शव वाहन में सेक्टर-25 के शमशान ले जाया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *