जिले में खुलेंगे 46 सीएनजी फिलिंग स्टेशन, प्रदूषण में आएगी कमी

जिले को सिलिंडर फ्री करके शहरवासियों को पाइप लाइन के माध्यम से गैस दी जाएगी। इतना ही नहीं शहर में सीएनजी से चलने वाले वाहनों को भी अब लाइन में लगने की जरूरत नहीं होगी। बहादुरगढ़ में ही अब वाहन चालकों को आसानी से सीएनजी उपलब्ध होगी। इसके लिए झज्जर जिले में 46 सीएनजी फिलिंग स्टेशन खोले जाएंगे। शहरी गैस वितरण परियोजना का उद्घाटन शनिवार को कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ गौरेया टूरिज्म कॉम्प्लेक्स स्थित सरकारी पेट्रोल पंप से करेंगे। इस दौरान उनके साथ विधायक नरेश कौशिक सहित भी मौजूद होंगे। बता दें कि जिले का पहला सीएनजी फिलिंग स्टेशन गौरेया टूरिज्म कॉम्प्लेक्स के पास स्थित सरकारी पेट्रोल पंप से ही शुरू किया जाएगा।

तीन माह में शुरू होगा पाइप लाइन डालने का काम
कंसोर्टियम ऑफ हरियाणा सिटी गैस कपिल चोपड़ा इंटरप्राइजेज एंड रति चोपड़ा के सीईओ राहुल चोपड़ा ने बताया कि इस योजना के तहत ऑटोमोबाइल के लिए सीएनजी, घरेलू इंधन के लिए पीएनजी के साथ ही व्यावसायिक व औद्योगिक गैस उपलब्ध करवाने का लक्ष्य है। उन्होंने बताया कि उद्घाटन होने के लगभग तीन माह में पाइप लाइन डालने का काम शुरू हो जाएगा। उन्होंने बताया कि पाइप लाइन डालने का काम एक से दो साल में पूरा हो जाएगा, उसके बाद शहरवासियों को गैस सिलिंडर से छुटकारा मिल जाएगा।

प्रदूषण स्तर में आएगी कमी
हरियाणा सिटी गैस के सीईओ राहुल चोपड़ा ने बताया कि बहादुरगढ़ दिल्ली के सबसे नजदीक है और यहां पर कारखाने होने की वजह से प्रदूषण का स्तर काफी ज्यादा है। परियोजना के पूर्णरूप से शुरू हो जाने के बाद जिले का प्रदूषण लेवल काफी कम हो जाएगा। उन्होंने बताया कि शहर में इंडस्ट्री की वजह से काफी मात्रा में प्रदूषण होता है, इंडस्ट्री में इस गैस के माध्यम से प्रदूषण नहीं होगा। इससे यहां रहने वाले लोगों को इसका काफी फायदा मिलेगा। स्वच्छ ऊर्जा की दिशा में यह एक महत्वपूर्ण परियोजना है। इसके माध्यम से इको फ्रेंडली और सुरक्षित गैस सस्ती दरों पर उपभोक्ताओं को मिलेगी। होटलों व रेस्टोरेंट आदि में व्यावसायिक उपयोग में इसकी आपूर्ति होने से सिलिंडरों की उठापटक व मारामारी से भी छुटकारा मिल जाएगा।

दो माह में उपभोक्ताओं को भेजा जाएगा बिल
सीईओ राहुल चोपड़ा ने बताया कि घरेलू लेने वाले उपभोक्ताओं को दो माह का एक साथ बिल भेजा जाएगा। उन्होंने बताया कि योजना शुरू होने के बाद शहर के हर गली-मोहल्ले में पाइप लाइन डालने का काम किया जाएगा। इससे शहरवासी घरेलू गैस का लाभ ले सकें। योजना का लाभ लेने वाले उपभोक्ताओं को पहले कंपनी में अपनी रजिस्ट्रेशन करना होगा। रजिस्ट्रेशन कराने के बाद उपभोक्ता को गैस उपलब्ध हो सकेगा। उन्होंने बताया उपभोक्ता इस गैस का उपयोग गीजर से पानी गर्म सहित अन्य में भी उपयोग कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि जिले के दस लाख लोगों को इसका फायदा मिलेगा। उन्होंने बताया कि परियोजना के तहत गैस लेने पर घरों में गैस का खर्च एलपीजी की तुलना में 40 प्रतिशत कम हो जाएगा। साथ ही उपभोक्ता को सिलिंडर के लिए लाइन में लगकर पर्ची कटवाने से भी छुटकारा मिल जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *