लेवल सुधार में महत्वपूर्ण साबित हुआ सक्षम हरियाणा कार्यक्रम : डा. राहुल नरवाल

बेरी खण्ड को सक्षम प्लस की उपलब्धि के लिए एसडीएम ने दिया शिक्षकों, विद्यार्थियों, अभिभावकों व शिक्षा विभाग को श्रेय

एसडीएम डा. राहुल नरवाल ने लर्निंग लेवल सुधार को बताया निरंतर व अंतहीन प्रक्रिया, शिक्षकों से किया अनवरत परिश्रम का आह्वान

बेरी (झज्जर), समाचार क्यारी,  संजय शर्मा/ रवि कुमार:- सरकारी स्कूलों में पढऩे वाले बच्चों के लर्निंग लेवल में सुधार लाने के लिए सक्षम हरियाणा एक महत्वपूर्ण कार्य साबित हुआ है। लर्निंग लेवल में सुधार एक निरंतर चलने वाली अंतहीन प्रक्रिया है। बेरी खण्ड को राज्य स्तर पर सक्षम प्लस की उपलब्धि हासिल करने के लिए शिक्षक, विद्यार्थी, अभिभावक व शिक्षा विभाग के अधिकारी बधाई के पात्र है। यह बात एसडीएम डा. राहुल नरवाल ने सोमवार को लघु सचिवालय स्थित अपने कार्यालय में सक्षम हरियाणा कार्यक्रम की समीक्षा बैठक के दौरान कही।
डा. राहुल नरवाल ने बेरी खण्ड को सक्षम प्लस की उपलब्धि दिलाने पर शिक्षकों से अपनी मेहनत को निरंतर जारी रखने का आह्वान भी किया। हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के दृष्टिकोण पर आधारित इस कार्यक्रम से सरकारी स्कूलों में गुणवत्तापरक सुधार नजर आया है। उन्होंने शिक्षा विभाग के अधिकारियों से कहा कि सक्षम प्लस हासिल करने के साथ-साथ अब लर्निंग लेवल को निरंतर उच्च बनाए रखने के लिए काम करना चाहिए। स्कूलों में इनोवेशन को प्रोत्साहन, अंग्रेजी भाषा में कविता पाठ व समाचार पत्रों को पढऩे के लिए विद्यार्थियों को नियमित रूप से प्रेरित करना चाहिए।
एसडीएम ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों को सुझाव देते हुए कहा कि अब उन स्कूलों पर विशेष फोकस करना चाहिए जहां पर पिछले मूल्यांकन के दौरान आशानुरूप नतीजे नहीं मिले। इस कार्य में प्रशासन का आपको जो भी सहयोग चाहिए वह पूरा मिलेगा। साथ ही इस उपलब्धि को स्कूल स्तर पर भी विद्यार्थियों के साथ सांझा किया जाए। खण्ड शिक्षा अधिकारी वीरेंद्र नारा ने बैठक के दौरान जानकारी देते हुए कहा कि बेरी खण्ड के सरकारी स्कूलों में पढऩे वाले विद्यार्थियों ने एनटीएसई व सुपर 100 परीक्षाओं में उल्लेखनीय प्रदर्शन किया है। साथ ही सक्षम प्लस की उपलब्धि तक पहुंचने का अनुभव भी सांझा किया। उन्होंने अगस्त माह में सक्षम 2.0 के तहत तीसरी से आठवीं कक्षा तक हिंदी, ईवीएस, विज्ञान, अंग्रेजी, गणित व सामाजिक विज्ञान विषयों के थर्ड पार्टी मूल्यांकन की कार्य योजना की भी जानकारी दी। इस के लिए अगस्त के प्रथम सप्ताह में प्री एसेसमेंट टेस्ट लिया जाएगा।
इस अवसर पर रावमावि शेरिया के प्राचार्य रमेश कुमार, रावमावि सिवाना के रविंद्र सिंह, राकवमावि बेरी से उर्मिल राठी, रावमावि मदाना कलां से प्राचार्य कमलेश, रावमावि डीघल से श्याम सुंदर, रावमावि जहाजगढ़ से प्राचार्य हरिओम सहित सभी कलस्टर हेड, एबीआरसी व बीआरसी आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *