प्रदेश के देहात में फैल रहा संक्रमण, इंतजाम नाकाफी

Spread the love

पानीपत. कोरोना वायरय के केस अब गांवों में भी बड़े स्तर पर सामने आ रहे हैं। अब तक 20 जिलों के 313 गांवों में 866 कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं। हालांकि सभी बाहर से अपने घर लौटे और सबसे पहले परिवार वालों को संक्रमित किया। इसके बाद पड़ोसी चपेट में आए। गांवों में इंतजाम की बात की जाए तो न के बराबर है।

गौरतलब है कि लॉकडाउन-1 में सभी गांवों में ठीकरी पहरे लगा दिए गए थे। इनमें से कुछ लॉकडाउन-2 व बाकी लॉकडाउन-3 में हटा दिए गए। सरकार के छूट देने के बाद सोशल डिस्टेंसिंग और जरूरी एहतियात भी नहीं बरती जा रही। वहीं, बड़े शहरों जैसे मुंबई, दिल्ली व गुड़गांव से आए लोगों को घर में क्वारेंटाइन किया गया है, उनमें से ज्यादातर नियमों को तोड़ रहे हैं। इसकी वजह से उनके परिजन व अन्य लोग चपेट में आ रहे हैं। इसी तरह हिसार में कुल 78 केसों में से 41 केस गांवों में ही मिले हैं। करनाल में 81 में से 55 केस गांवों के हैं। इसी तरह कुरुक्षेत्र में भी कुल 46 में से 32 केस गांवों में हैं। रोहतक जिले के 14 गांवों में 30 केस सामने आ चुके हैं। कैथल में कुल 34 केस में से 12 गांवों में मिले हैं। पानीपत के 11 गांवों में 14 केस मिल चुके हैं।

जानिए…गांवों में कैसे बढ़ रहा संक्रमण का खतरा

भिवानी में एक 4 परिजन हुए संक्रमित : गांव नाथुवास का युवक गुरुग्राम में निजी कंपनी में नौकरी करता था। वह गुरुग्राम से घर आया और बीमार होने पर उसने कोरोना सैंपल दिया। 29 मई को उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इससे उसकी मां, पत्नी व भतीजी तक संक्रमण फैल गया। गांव के ही एक विकास नामक युवक भी संकमित पाया गया। इस तरह से एक व्यक्ति से कोरोना चार सदस्यों तक पहुंच गया।

दादरी में गांव के सबसे ज्यादा 12 संक्रमित
दादरी में अब तक कुल 36 पॉजिटिव केस हैं। इनमें 4 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं वहीं एक मरीज की मौत हो चुकी है। अब जिले में 31 एक्टिव केस हैं। जिले में सबसे ज्यादा मरीज गांव सांवड़ में 12 हैं। गांव सांवड़ निवासी 50 वर्षीय जिले सिंह 16 मई को गुरुग्राम से आया था। जिसके साथ उसकी तीन बच्चे व बीवी थी। 18 मई को जिले सिंह व उसके तीनों बच्चे कोरोना पॉजिटिव मिले थे। इसके बाद जिले सिंह को गुरूग्राम से लाने वाला कैब चालक सावड़ निवासी मुकेश कुमार भी पॉजिटिव निकला था। गांव आने के बाद जिले सिंह व उसके बच्चों के संपर्क में शशीदेवी, आकाश, तन्नू, राखी, फूलपति, पूजा व साहिल आ गए थे। ऐसे में गांव सांवड़ में अब कुल 12 पॉजिटिव मरीज हैं।

सोनीपत में 1 से 10 लोग चपेट में आ चुके
गांव खेड़ी गुर्जर में दिल्ली से आए व्यक्ति के संपर्क में आने से 10 लोग संक्रमित हुए। यहां एक बुजुर्ग महिला की मौत हो चुकी है। गांव खूबडू में दिल्ली पुलिस के जवान से उसकी मां, बहन, पिता, भाई, चचेरा भाई सहित 9 लोग संक्रमित मिले। यह सभी ठीक हो चुके हैं। राई की फूफा कालोनी में काम करने वाले एक कर्मचारी से 15 और राई के निजी स्कूल के पास 9 केस मिल चुके हैं। यहां कुल 24 लोग संक्रमित हुए हैं।

पानीपत के 11 गांवाें में फैला संक्रमण
जिले के 11 गांवाें में 14 काेराेना पाॅजिटिव केस मिले हैं। 23 मार्च काे गांवाें से पहला पाॅजिटिव केस नाैल्था गांव से मिला है। इसमें दाे केस कालखा गांव से पिता-पुत्र मिले हैं। वहीं, झट्टीपुर गांव में एक 28 साल के युवक की काेराेना से माैत हुई है। उसे टीबी भी थी। 6 मई काे मरने के बाद 7 मई काे पाॅजिटिव रिपाेर्ट आई थी। जिले के 10 केस इन गांवाें से आए। इसमें कालखा गांव से दाे, उग्रा खेड़ी गांव, पांवटी, झट्टीपुर, बापाैली, चंदाैली, जाटल गांव, फरीदपुर गांव से एक-एक केस मिले हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *