धारा-370 के मुद्दे पर NDA से नाता नहीं तोड़गी JDU

राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के घटक जनता दल यूनाईटेड (जदयू) ने आज स्पष्ट किया कि केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार यदि जम्मू-कश्मीर से संबंधित धारा-370 को हटाने का फैसला लेती है तो पार्टी राजग में रहकर इसका विरोध करेगी लेकिन इस मामले को लेकर नाता नहीं तोड़गी।
जदयू के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव के. सी. त्यागी ने बिहार के मुख्यमंत्री एवं जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा कि जदयू का कश्मीर से संबंधित धारा-370, समान आचार संहिता और राम जन्म भूमि विवाद के मामले में पहले से घोषित रुख आज भी कायम है। पार्टी के इन मुद्दों पर रुख में किसी भी तरह के परिवर्तन का सवाल ही नहीं उठता और इसे लेकर पहले भी कई अवसरों पर स्थिति स्पष्ट की जा चुकी है।
श्री त्यागी ने एक सवाल के जवाब में कहा कि यदि नरेन्द्र मोदी सरकार कश्मीर से संबंधित धारा-370 हटाने का निर्णय लेती है और इससे संबंधित कोई प्रस्ताव आता है तो उनकी पार्टी राजग में रहते हुये इसका विरोध करेगी। उन्होंने स्पष्ट किया कि इस मामले को लेकर जदयू राजग से नाता नहीं तोड़गी लेकिन गठबंधन में रहकर पूरी मजबूती से विरोध करेगी।प्रधान महासचिव ने कहा कि समान आचार संहिता के मामले में भी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कुमार ने विधि आयोग को पत्र लिखकर रुख स्पष्ट कर दिया था। इसके लिए व्यापक विमर्श और सभी संबंधित पक्षों से राय लेने की जरूरत है तभी इस दिशा में कोई कदम उठाया जाना चाहिए।
उन्होंने कहा कि संसद में उनकी पार्टी तत्काल तीन तलाक के मुद्दे पर विरोध में मत देकर अपना रुख स्पष्ट कर चुकी है। श्री त्यागी ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के संबंध में जानकारी देते हुये कहा कि पार्टी ने झारखंड, दिल्ली, हरियाण तथा जम्मू-कश्मीर में होने वाला विधानसभा चुनाव अपने दम पर लड़ने का निर्णय लिया है। जदयू सिर्फ बिहार में ही राजग का घटक दल है जबकि अन्य राज्यों में इसका राजग से कोई नाता नहीं है। प्रधान महासचिव ने कहा कि इसी वर्ष 19 और 20 अक्टूबर को राष्ट्रीय परिषद, की बैठक में पार्टी के नये अध्यक्ष का चुनाव होगा। चुनाव आयोग की ओर से तय प्रावधान के अनुसार, पार्टी ने सांगठनिक चुनाव के लिए सदस्यता अभियान की शुरुआत कर दी है।
त्यागी ने कहा कि जदयू का अब नरेन्द्र मोदी सरकार में शामिल का कोई प्रश्न ही नहीं है। पार्टी अध्यक्ष श्री कुमार ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह को नई दिल्ली में 29 मई को व्यक्तिगत तौर पर तथा 30 मई को दूरभाष पर इसकी जानकारी दे दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *