जब सेल्फी के लिए आगे बढ़ा नौजवान तो सीएम खट्टर को आया गुस्सा

चंडीगढ़ : लोकसभा चुनाव में मिली अभूतपूर्व जीत के लिए कार्यकर्ताओं का अनिंदन करने हरियाणा में निकले मुख्यमंत्री मनोहर लाल बृहस्पतिवार की सुबह बेहद गुस्से में थे। सीएम के कोप का भाजन कई नेताओं व कार्यकर्ताओं को बनना पड़ा। करनाल में आयोजित कार्यकर्ता अभिनंदन समारोह के दौरान एकनौजवान को मुख्यमंत्री मनोहर लाल के साथ सेल्फी करना महंगा पड़ गया। सीएम ने भरी सभा में सेल्फी करने वाले नौजवान को जब झटका तो सुरक्षा कर्मियों ने भी मुख्यमंत्री का मिजाज भांपकर आनन-फानन में उक्त नौजवान को समारोह स्थल से बाहर निकाला।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल पिछले दो दिन से कार्यकर्ता अभिनंदन समारोह में व्यस्त हैं। मुख्यमंत्री बुधवार को हिसार व पंचकूला में थे तो बृहस्पतिवार की सुबह मुख्यमंत्री करनाल पहुंचे। जहां उन्होंने कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत मुख्यमंत्री मनोहर लाल पंडाल में पहुंचे और दोनों तरफ खड़े कार्यकर्ताओं पर पुष्प वर्षा करते हुए मंच की तरफ बढऩे लगे।
इसी दौरान भाजपा का युवा नेता अंकुर गर्ग मुख्यमंत्री के पास आकर उनके पांव छूता है। मुख्यमंत्री युवा नेता का अभिवादन स्वीकार करके जैसे ही आगे बढऩे लगते हैं तो उक्त नौजवान अपने हाथ में मोबाइल फोन लेकर सीएम के साथ सेल्फी करने लगता है। इसी दौरान मुख्यमंत्री ने उक्त युवक को धमकाते हुए सेल्फी से इनकार करते हुए उसका फोन वाला हाथ झटक दिया। सीएम का रवैया देखते हुए उनके साथ मौजूद कैबिनेट मंत्री, विधायक तथा सुरक्षा अमले के हाथ-पांव फूल गए। जिन्होंने उक्त नौजवान को एक तरफ करके मामला शांत किया।
बताया जाता है कि सीएम के साथ सेल्फी लेने का प्रयास करने वाला नौजवान तरावड़ी निवासी अंकुर गर्ग है। जिसके माता-पिता लंबे समय से भाजपा के साथ जुड़े हुए हैं तथा वह भी पार्टी का सक्रिय कार्यकर्ता है। इस घटनाक्रम के बाद मुख्यमंत्री जैसे ही मंच पर पहुंचे तो कुछ लोगों ने मंच पर सीएम से मुलाकात करने का प्रयास किया लेकिन सीएम ने अपने सुरक्षा कर्मियों को इशारा करके मंच पर चढऩे वालों को भी रूकवा दिया।
इस बीच काफी शोरगुल के बीच सीएम का कार्यक्रम तो शुरू हुआ लेकिन समारोह स्थल की अव्यवस्थाओं को देखकर सीएम फिर से बिफर गए और उन्होंने मंच पर मौजूद हरियाणा के एक कैबिनेट मंत्री तथा अपने एक ओएसडी को भी लताड़ लगाई। कार्यक्रम के बाद भी सीएम के रवैये में कोई बदलाव नहीं आया। मुख्यमंत्री जब मंच से नीचे उतर रहे थे तो भी कुछ कार्यकर्ताओं ने आगे बढक़र सीएम से मुलाकात करनी चाही लेकिन सीएम के इशारे पर सुरक्षा कर्मियों ने उन्हें एक तरफ ही रोक दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *