चेयरमैन फ्लाइंग ने सुपरवाईजर को किया रिलीव, दस यूएमसी बनाए

Spread the love

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की बारहवीं की परीक्षाओं में नकल पर नकेल नहीं डल पा रही है। चाहे ग्रामीण क्षेत्र हो या शहरी, हर जगह बाहरी हस्तक्षेप है। परीक्षा केंद्रों के 200 मीटर के दायरे में जिला मजिस्ट्रेट की ओर से धारा 144 भी लगाई गई है। लेकिन इसकी किसी को परवाह नहीं है और धारा 144 की जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है।

हरियाणा बोर्ड के चेयरमैन की फ्लाइंग ने मंगलवार को बिरधाना गांव के परीक्षा केंद्र का निरीक्षण किया और यहां से एक नकलची को पकड़ा और एक सुपरवाइजर को भी रिलीव कर दिया है। मंगलवार को 12वीं की भौतिकी और अर्थशास्त्र की परीक्षा हुई। इस दौरान जिले में कुल दस नकलची पकड़े गए हैं। उड़नदस्तों ने दसों नकलचियों के यूएमसी बना दिए हैं।

जिले में बोर्ड की परीक्षाओं के लिए 64 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। परीक्षा केंद्रों पर पुलिस के जवानों को तैनात तो किया गया है। उसके बावजूद परीक्षार्थियों के साथ नकल डालने आए लोग नकल डालने से नहीं चूक रहे हैं। परीक्षा केंद्रों पर जब भी कोई उड़नदस्ता पहुंचता है तो परीक्षा केंद्रों के बाहर मौजूद युवक शोर मचाकर परीक्षा दे रहे बच्चों को सचेत कर देते हैं और बच्चे पर्चियों को बाहर फेंक देते हैं। उड़नदस्ते जब परीक्षा केंद्र से वापस जाते ही एक बार फिर से पर्ची डालने को सिलसिला शुरू हो जाता है। नकल डालने वाले युवक जान जोखिम में डालकर दीवारों को फांदते हुए परीक्षा केंद्रों की छतों पर भी चढ़ जाते हैं।

जिला प्रशासन के उड़नदस्तों ने भी किया केंद्रों का निरीक्षण

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन की फ्लाइंग जिले के बिरधाना गांव के परीक्षा केंद्र पर पहुंची और यहां पर फ्लाइंग ने एक नकलची पकड़ने के साथ ही नियमों की अवहेलना करने पर नवनीता जेबीटी अध्यापिका को ड्यूटी से रिलीव कर दिया है।

इतना ही नहीं जिले में बोर्ड के प्रश्न पत्र उड़नदस्तों के अलावा जिला प्रशासन के अधिकारियों के उड़नदस्तों ने भी विभिन्न परीक्षा केंद्रों का निरीक्षण किया और अलग-अलग परीक्षा केंद्रों पर पहुंच कर नकल कर रहे दस परीक्षार्थियों के यूएमसी भी बनाए। झज्जर के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में दो, मातनहेल के परीक्षा केंद्रों पर तीन, परनाला के परीक्षा केंद्र पर चार नकलची पकड़े गए हैं।

बोर्ड की परीक्षाओं के दौरान नकल रोकने के पूरे प्रयास किये जा रहे हैं। नकल करने वाले परीक्षार्थियों के यूएमसी बनाए जा रहे हैं। आज भी दस यूएमसी बनाए गए हैं।
ईश्वर सिंह नागर, प्रश्न पत्र केंद्र प्रभारी, झज्जर।

Leave a Reply

Your email address will not be published.