श्रीलंका के कोलंबो बस अड्डे पर मिले 87 बम विस्फोटक, आज रात से इमरजेंसी लागू

Spread the love

श्रीलंका में ईस्टर के मौके पर हुए सिलसिलेवार बम विस्फोटों में मृतकों की संख्या बढ़कर 290 हो गई है। रविवार को हुए 8 ब्लास्ट से श्रीलंका पूरी तरह से दहल गया है। वहीं आज श्रीलंका पुलिस ने कोलंबो मुख्य बस अड्डे पर 87 बम विस्फोटकों का पता लगाया। देश के ऐसे हालत देखते हुए श्रीलंकाई राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना ने सोमवार आधी रात से पूरे देश में इमरजेंसी लागू करने का ऐलान कर दिया है।

सोमवार सुबह कोलंबो एयरपोर्ट के पास एक और बम बरामद हुआ है। इसे सुरक्षाबलों ने समय रहते डिफ्यूज कर दिया।  रिपोर्ट में दिए गए आंकड़ों के मुताबिक इन विस्फोटों में 500 लोग घायल हुए हैं। पुलिस ने बताया कि हमले में मारे गए विदेशियों में कम से कम छह भारतीय नागरिकों के शामिल होने की खबर है। साथ ही, पुलिस प्रवक्ता ने इस मामले में अब तक 24 संदिग्धों को गिरफ्तार किये जाने की पुष्टि की है।

श्रीलंका के इतिहास में हुई सबसे बड़ी आतंकवादी घटना के पीछे नेशनल तौहीद जमात नाम के स्थानीय संगठन का हाथ था। श्रीलंका के एक शीर्ष मंत्री ने सोमवार को यह जानकारी दी। सरकार के सूचना विभाग ने बताया, ‘‘आज सुबह छह बजे पुलिस कर्फ्यू हटा लिया गया था, लेकिन आज रात आठ बजे से इसे फिर से लागू कर दिया जाएगा जो अगले दिन सुबह चार बजे तक जारी रहेगा।’’

पुलिस के एक सूत्र ने ‘एएफपी’ को बताया कि देशी पाइप बम रविवार देर रात मुख्य टर्मिनल की ओर जाने वाली सड़क से बरामद किया गया था। ईस्टर पर सिलसिलेवार बम धमाकों के बाद भारी सुरक्षा के साथ यह मार्ग खुला था। सूत्र ने कहा, “वह एक देशी बम था, जिसमें विस्फोटक पाइप में भरे थे।”

वायुसेना के प्रवक्ता ग्रुप कैप्टन गिहान सेनेपविरत्ने ने बताया कि ऐसा प्रतीत होता है कि आईडी स्थानीय स्तर पर बनाया गया था। वायुसेना के एक प्रवक्ता ने कहा, “यह छह फुट लंबा एक देशी पाइप बम था, जो सड़क के किनारे बरामद हुआ।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ हमने उसे हटाकर सफलतापूर्वक निष्क्रिय कर दिया।”

कोलंबो हवाई अड्डे पर अस्त-व्यस्त सा माहौल था क्योंकि श्रीलंका पहुंचे यात्रियों को वहां खुले एकमात्र टैक्सी काउंटर पर लंबी कतार में लगना पड़ा। वे अपडेट के लिए टीवी स्क्रीन पर नजरें गड़ाए थे। वही, सरकार द्वारा राष्ट्रव्यापी कर्फ्यू लगाने के बाद सड़कें सुनसान हैं और गलत जानकारी फैलने से रोकने के लिए सोशल मीडिया के इस्तेमाल पर रोक लगा दी लगा दी गई है। बम मिलने से उड़ाने प्रभावित हुई हैं।

श्रीलंका की सरकारी विमान कम्पनी (श्रीलंकन) ने यात्रियों को भण्डारनायके अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर कड़ी सुरक्षा के कारण प्रस्थान से कम से कम चार घंटे पहले चेक-इन काउंटरों पर पहुंचने को कहा है। गौरतलब है कि करीब एक दशक पहले देश में समाप्त हुए गृह युद्ध के बाद यह सबसे हिंसक घटना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *