भारत में बजा चुनावी नगाड़ा, सात चरणों में होंगे मतदान, 23 मई को आएंगे नतीजे

निर्वाचन आयोग ने लोकसभा चुनाव कार्यक्रम की घोषणा रविवार को कर दी। लोकसभा चुनाव अप्रैल-मई में सात चरणों में होगा। आयोग यहां विज्ञान भवन में शाम पांच बजे एक संवाददाता सम्मेलन कहा कि मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि हम सभी राज्यों का दौरा करने के बाद ही तारीखों की घोषणा कर रहे है। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में हर पोलिंग बुथ पर VVPAT का इस्तेमाल किया जाएगा। इसके साथ यह बी कहा गया कि लोकसभा चुनाव को लेकर सभी एजेंसियों के राय ली है। इसके अलावा EVM पर उम्मीदवारों की तस्वीर होगी। इस बार 8 करोड़ 43 लाख मतदाता बढ़े है। आयोग ने स्ष्टप किया कि  जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव, लोकसभा चुनावों के साथ नहीं होंगे।

चुनाव आयुक्त ने कहा कि सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। इस चुनाव के लिए हेल्पलाइन नंबर (1950) भी जारी किया गया है। मौजूदा लोकसभा का कार्यकाल तीन जून को समाप्त होना है। चुनाव कार्यक्रम की घोषणा होने के साथ ही पूरे देश में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई। इस चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पुन: सत्ता में लौटने की कोशिश करेंगे, तो दूसरी ओर भाजपा के खिलाफ कई राजनीतिक दल एकजुट होकर पार्टी को फिर से सत्ता में आने से रोकने का प्रयास करेंगे।

  • इस बार लोकसभा चुनावों में दस लाख मतदान केंद्र बनाए जाएंगे, 2014 के लोकसभा चुनावों में नौ लाख मतदान केंद्र बनाए गए थे
  • सभी पोलिंग स्टेशन पर वीवीपैट का इस्तेमाल होगा
  • सोशल मीडिया पर सभी राजनीतिक विज्ञापनों के लिए पूर्व सत्यापन जरूरी
  • सात चरणों में होंगे लोकसभा चुनाव :चुनाव आयोग
  • मतगणना 23 मई को होगी: चुनाव आयोग
  • अंतिम चरण का मतदान 19 मई को होगा :मुख्य चुनाव आयुक्त
  • लोकसभा चुनाव का दूसरा चरण 18 अप्रैल को, तीसरा चरण 23 अप्रैल को, चौथा चरण 29 अप्रैल को होगा
  • लोकसभा चुनावों का पांचवां चरण 6 मई को, छठा चरण 12 मई को और सातवां तथा अंतिम चरण 19 मई को
  • प्रथम चरण के चुनाव में 91 लोकसभा सीटों और दूसरे चरण के चुनाव में 97 लोकसभा सीटों पर चुनाव होंगे
  • तीसरे चरण में 115 सीटों, चौथे चरण में 71, पांचवें चरण में 51, छठे चरण में 59 और सातवें चरण में 59 सीटों पर चुनाव होंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *