लॉकडाउन : मंदिरों में दर्शन के लिए होंगे टाइम स्लॉट

फिलहाल मंदिरों को बंद ही रखा जाएगा लेकिन राज्य सरकारें और देशभर के मंदिर प्रशासन इस बात पर विचार कर रहे हैं कि लॉकडाउन पूरी तरह से खुलने के बाद की व्यवस्थाएं कैसी होनी चाहिए। इसकी शुरुआत कर्नाटक और आंध्र प्रदेश जैसे राज्यों ने कर भी दी है है।

आंध्रप्रदेश में सरकारी निर्देश जारी हो चुका है कि लॉकडाउन के बाद मंदिरों में दर्शन के लिए लोगों को आधार कार्ड लाना जरूरी होगा। कर्नाटक सरकार राज्य के लगभग साढ़े तीन हजार मंदिरों में चरणामृत और प्रसाद वितरण जैसी व्यवस्था पर अस्थायी रुप से रोक लगाने पर विचार कर रही है। ज्यादातर मंदिरों में भगवान के दर्शन दूर से ही होंगे। गर्भगृहों में जाने पर रोक लग सकती है।

आंध्रप्रदेश के बंदोबस्ती विभाग ने निर्देश जारी किए हैं कि मंदिर सुबह 6 से शाम 6 के बीच टाइम स्लॉट के हिसाब से श्रद्धालुओं को एसएमएस से दर्शन का समय दें। यात्री को अपनी पहचान के लिए आधार कार्ड लाना जरूरी होगा और एक घंटे में अधिकतम 250 लोग दर्शन कर सकेंगे। सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखना होगा।

दर्शन के लिए टाइमस्लॉट एक दिन पहले शाम को ही तय कर दिए जाएंगे। इसका अर्थ है कि तिरुपति, श्रीशैलम जैसे मंदिरों में दर्शन के लिए यात्रियों को एक दिन पहले या ऑनलाइन अनुमति लेना होगी। हालांकि, इस निर्देश पर अभी मंदिरों की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *