बिजली बिल ठीक करने की एवज में ली थी 3 हजार रिश्वत, सुनाई 5 साल की कैद

कुरुक्षेत्र। बिल ठीक करने की एवज में 3 हजार रुपए रिश्वत लेने वाले लोअर डिविजन क्लर्क को कोर्ट ने 5 साल की कैद सुनाई है। जिला कुरुक्षेत्र के अतिरिक्त एवं सत्र न्यायाधीश राकेश सिंह की अदालत ने भ्रष्टाचार के इस मामले में 10,000 रूपए जुर्माने भी लगया है।

  1. यह जानकारी देते हुए उप जिला न्यायवादी मेन पाल ने बताया कि कुरुक्षेत्र के सौदागरान मोहल्ला में रहने वाले सुनील कुमार ने 8 मई 2017 को राज्य चौकसी ब्यूरो की कुरुक्षेत्र इकाई में शिकायत दी थी। उसने लिखा था कि सुरेश कुमार एसएसए (एलडीसी) सब  डिवीजन यूएचबीवीएन कुरुक्षेत्र ने उसके बिजली के बिल को ठीक करने के बदले में तीन हजार रुपए रिश्वत की मांग की है।
  2. वह उसे रंगेहाथों पकड़वाना चाहता है। इस शिकायत पर मामला दर्ज करके निरीक्षक राज कुमार ने अपने साथी एएसआई अनिल कुमार, ईश्वर सिंह तहसीलदार थानेसर को ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त करवाकर शिकायत करता को साथ लिया तथा राज पाल हल्का पटवारी कनीपला को भी रेडीइंग पार्टी में शामिल किया गया।
  3. शिकायत करता सुनील कुमार ने सुरेश कुमार को फिनोल फैथालीन पाउडर लगे तीन हजार रुपए दिए। जैसे ही सुरेश कुमार ने रिश्वत के पैसे लिए उसे पैसों सहित काबू कर लिया तथा पैसे बरामद कर लिए गए। यह केस राकेश सिंह अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायधीश कुरुक्षेत्र की अदालत में चल रही था।
  4. अदालत ने गवाहों व सबूतों के आधार पर आरोपी सुरेश कुमार को दोषी करार देते हुए भ्रष्टाचार अधिनियम की धारा 7 व धारा 10 में कुल 5 साल कैद व 20 हजार रुपए जुर्माना लगाया है। जुर्माना ना देने की सूरत में 3/3 माह की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *