हिंदू स्कूल से प्रिंसीपल और वाइस प्रिंसीपल को हटाने पर बढ़ा विवाद

कैथल, : हिंदू कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय की प्राचार्या मोनिका कौशिक और वाइस प्रिंसीपल को अपदस्थ करने का विवाद तूल पकड़ता जा रहा है। बुधवार को विद्यालय के मैनेजमेंट रूम में पत्रकारों से बातचीत में मौनिका कौशिक और अन्य अध्यापिकाओंं ने मैनेजमेंंट पर एक षडय़ंत्र के तहत उन्हें हटाने के आरोप लगाए। मोनिका कौशिक ने कहा कि हिंदू शिक्षा समिति के प्रधान प्रवीण चौधरी और रामचौधरी ने प्रेस को द्ब्रयान दिया कि मोनिका कौशिक ने चोरी की है। उन पर चोरी के आरोप निराधार है। शनिवार को वह छुट्टïी पर थी। उनके पास उनके कार्यालय की चाबी रहती है। अपनी छुट्टïी के बारे मेंं उन्होंने प्रधान प्रवीण चौधरी को जानकारी भी दे दी थी। मोनिका कोशिक ने कहा कि जब चाबी उनके पास है स्टाफ के दस्तावेज उनकी कस्टड़ी में है तो वह चोरी ञ्चयों करेंगी? उन्होंने कहा कि जिस दिन से उन्हें हटाने का मैसेज किया गया है उस दिन के बाद से मैनेजमेंट गेट बंद करवा देती है और उन्हें अंदर नहींं आने दिया जा रहा। उन्होंने कहा कि चोरी वाले दिन की सीसीटीवी फूटेज निकाली जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि चैक बुक को लेकर ञ्जाी मैनेजमेंट के प्रधान सवाल उठा रहे हैं, जबकि स्कूल की जितनी भी चैक बुक है वह प्रवीण मितल अकाउंटेंट के पास रहती है। मोनिका कौशिक ने बताया कि वह इस मामले में शिक्षामंत्री से भी मिली हैं और उन्होंने उन्हें आश्वासन दिया है कि वह उन्हें जल्द ही उनके पद वापिस दिलाएंगी। उन्होंने कहा कि मैनेजमेंट आर्थिक स्थिति मजबूत न होने का रोना रो रहा है जबकि आज भी विद्यालय के 827 बच्चे ऑनलाइन कक्षाएं ले रहे हैं। जब बच्चों की फीस आएगी तो सबकुछ सामान्य हो जाएगा। वहींं इस बारे में प्रधान प्रवीण चौधरी ने कहा कि यहां कोई एसएमएस टीचरों को नहीं किए जाते। प्रिंसीपल और वाइस प्रिंसीपल की सबसे ज्यादा सैलरी थी इसलिए मैनेजमेंट ने छंटनी करने का निर्णय लिया। उन स्टाफ की सैलरी कहां से दी जाएगी इसलिए उन्हें हटाया गया है। उन्होंने कहा कि प्रबंधक कमेटी की मीङ्क्षटग हुई है उसके बाद ही यह निर्णय लिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *