कांग्रेस ने शिवराज सहित बीजेपी के 4 नेताओं के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत

कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने आज चुनाव आयोग जाकर अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अरुण सिंह तोमर को प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ उनके दो आपत्तिजनक बयानों को लेकर व नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव एवं भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार चौहान के खिलाफ कुल चार शिकायत दर्ज करवा कर उनके खिलाफ आचार संहिता के उल्लंघन का प्रकरण दर्ज करने की मांग की है।

मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सलूजा ने यहां जारी वक्तव्य में बताया कि शिकायत में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री चौहान निरंतर अपनी सभाओं में कांग्रेस की राज्य सरकार द्वारा किसानों की गयी कर्ज माफी को लेकर लगातार असत्य बोल कर किसानों को गुमराह कर भ्रम फैला रहे हैं। कल भी उन्होंने ग्वालियर व भिंड की सभाओ में कहा कि एक भी किसान का कर्ज माफ नहीं हुआ है। जबकि वर्तमान कांग्रेस सरकार ने अभी तक करीब 23 लाख किसानों का कर्ज माफ कर दिया है। उनका यह बयान असत्य व किसानों में भ्रम फैलाने वाला है। यह आचार संहिता का उल्लंघन है।

श्री सलूजा ने कहा कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कल भिंड में भाजपा प्रत्याशी के नामांकन के दौरान कहा कि ‘‘अब 15 साल के भूखे डाकू लूटने आ गए हैं ‘‘। उनका यह बयान भी आपत्तिजनक, अमर्यादित और विवादास्पद है तथा आचार संहिता का उल्लंघन है। इसी प्रकार प्रदेश के नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कल शिवपुरी में भाजपा प्रत्याशी के नामांकन के दौरान सरकारी अधिकारियों व कर्मचारियों को खुलेआम धमकियाँ दी। उन्होंने कहा कि उनका यह बयान मतदान कार्य में लगे सरकारी अधिकारियों -कर्मचारियों को डराने,धमकाने व प्रभावित करने का बयान है।

श्री सलूजा के अनुसार इसी प्रकार प्रदेश के पूर्व भाजपा अध्यक्ष नंदकुमार चौहान ने रविवार की रात को खंडवा में एक कार्यकर्ता सम्मेलन में अपने संबोधन में कहा कि ‘‘कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी एक मशीन लाएंगे और कहेंगे कि इधर से आदमी डालूंगा उधर से औरत निकलेगी ‘‘। श्री सलूजा ने कहा कि यह बयान आपत्तिजनक होने के साथ-साथ महिलाओं का अपमान भी है। उक्त बयान आचार संहिता के उल्लंघन की श्रेणी में आता है।

कांग्रेस के प्रतिनिधि मंडल ने इन चार शिकायतों के माध्यम से चुनाव आयोग से मांग की कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव,पूर्व प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार चौहान के खिलाफ आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का प्रकरण दर्ज किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *