कैंसर संस्थान की सभी सुविधाएं मंजूर,राष्ट्रीय कैंसर अस्पताल के बारे में किसी तरह का भ्रम नहीं होना चाहिए:जेपी नड्डा

Spread the love

गांव बाढ़सा में राष्ट्रीय कैंसर संस्थान (एनसीआई) पर कुछ लोगों द्वारा पैदा की गई भ्रम की स्थिति को स्पष्ट करते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जेपी नड्डा ने केंद्रीय पत्र सूचना कार्यालय (पीआईबी) के माध्यम से जारी बयान में स्पष्ट किया है कि झज्जर स्थित ,,।

इसे हाल में एम्स नई दिल्ली के अभिन्न अंग के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा राष्ट्र को समर्पित किया गया है। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि बाढ़सा कैंसर संस्थान के लिए सभी सुविधाएं मंजूर हुई हैं, मंजूर सभी सुविधाएं वहीं विकसित की जाएंगी और इसे दूसरे स्थान पर नहीं ले जाया जाएगा।

2035 करोड़ रुपये की लागत से बना एनसीआई एकल अस्पताल परियोजना में भारत सरकार द्वारा चिकित्सा के क्षेत्र में सबसे बड़ा निवेश है और तीन वर्षों के रिकॉर्ड समय में पूरा होने वाला संस्थान है। नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के विजन के हिस्से के रूप में प्रत्येक राज्य में एक एम्स स्थापित किया जाएगा। एम्स मनेठी (रेवाड़ी) की घोषणा 2019-20 के अंतरिम बजट में की गई थी और यह देश का 22वां तथा हरियाणा का पहला एम्स होगा।

अन्य एम्स की तरह रेवाड़ी एम्स की स्थापना प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना (पीएमएसएसवाई) के अंतर्गत होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.