टेलीग्राम चैनल के जरिये आतंकियों की भर्ती कर रहा अंसार-गजवत-उल-हिन्द

हाल ही में जाकिर मूसा संगठन के 6 आतंकियों के जम्मू- कश्मीर में ढेर होने के बाद एक बार फिर पाक समर्थित इस संगठन ने आतंकवादियों की भर्ती का अभियान शुरू कर दिया है. खुफिया सूत्रों ने बताया कि जाकिर मूसा गुट के बचे हुए ओवरग्राउंड वर्कर घाटी में आतंकियों की भर्ती करने के लिए टेलीग्राम चैनल चला रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक यह टेलीग्राम चैनल कई जगहों पर सक्रिय करने की कोशिश की जा रही है. दरअसल, ऑपरेशन ऑल आउट में अंसार गजवा उल हिंद के इस साल 7 से ज्यादा आतंकवादियों को सुरक्षाबलों ने ढेर किया है.

यही वजह है कि अब अंसार गजवत उल हिंद, अल हुर्र, अल हिंद और अल सिंध नाम के संगठन 3 टेलीग्राम चैनल के जरिए आतंकियों के ब्रेनवॉश करने में जुटे हुए हैं. इन ओवरग्राउंड वर्कर का मकसद है कि ज्यादा से ज्यादा आतंकवादियों की भर्ती किया जाए. हालांकि अंसार गजवत उल हिंद का चीफ जाकिर मूसा इस समय भागा फिर रहा है. कभी उसके पंजाब में दिखने की जानकारी मिलती है तो कभी राजस्थान बॉर्डर पर उसकी मौजूदगी पता चलती है. सूत्र बताते हैं कि जिस तरीके से भारतीय सुरक्षा एजेंसियां जाकिर मूसा के पीछे पड़ी हुई हैं अब उसकी जिंदगी के दो-चार दिन ही बचे हैं.

इससे पहले अलकायदा की नई शाखा अंसार गजवत उल हिंद के छह आतंकवादियों को सुरक्षाबलों ने मार गिराया था. इससे यह आतंकी संगठन बैकफुट पर चला गया है. अपने आप को उबारने के लिए वह टेलीग्राम चैनल के जरिए आतंकियों की भर्ती करने में जुटा हुआ है. पिछले दिनों जाकिर मूसा गुट के डिप्टी चीफ सोहिला उर्फ रेहान खान को सुरक्षाबलों ने पुलवामा के एक ऑपरेशन में ढेर कर दिया था. इस ऑपरेशन में अंसार गजवत उल हिंद के पांच और आतंकी मारे गए थे. इसमें रफीक अहमद, मीर रूप अहमद, उमर रमजान, नदीम सैफी और फैसल जावेद शामिल थे. जम्मू-कश्मीर में इस मुठभेड़ के बाद अंसर गजवत उल हिंद का लगभग सफाया हो चुका है, और अब सिर्फ ग्रुप का प्रमुख जाकिर मूसा ही जिंदा है.  जो राज्य में सुरक्षा एजेंसियों की हिट लिस्ट में है. वह अभी टॉप 10 मोस्ट वांटेड लोगों में भी बना हुआ है.

ऑपरेशन ऑल आउट में इस साल 257 आतंकी ढेर

पाकिस्तान की सरपरस्ती में जम्मू-कश्मीर में फैलाए जा रहे आतंकवाद पर भारतीय सुरक्षा एजेंसियां लगातार लगाम लगाने में जुटी हुई हैं. भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने इस साल ऑपरेशन ऑल आउट में अब तक 257 से ज्यादा आतंकवादियों को ढेर कर दिया है.  एक रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने कश्मीर घाटी में ऑपरेशन ऑल आउट के तहत पिछले साल मारे गए 213 आतंकवादियों का आंकड़ा भी पार कर दिया है. जिन आतंकवादियों को ढेर किया गया है उनमें 138 लोकल और 119 पाकिस्तान से आए आतंकी शामिल हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *