सेना ने पाकिस्तान के नापाक इरादों का किया खुलासा, एफ 16 विमान गिराने के दिखाए सबूत

भारत पाकिस्तान के बीच तनाव की बड़ी वजह बने विंग कमांडर अभिनंदन को लेकर आज बड़ी खबर आई। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संसद में एलान किया कि पायलट को शुक्रवार को छोड़ दिया जाएगा। इसे भारत की बड़ी जीत माना जा रहा है। भारत ने आज दो टूक कह दिया था कि बिना शर्त अभिनंदन को भारत को सौंपा जाए। पूरे मामले पर तीनों सेनाओं की संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस हुई।

वायुसेना का बयान

-पाकिस्तान ने पहले कहा कि उसके पास भारत के दो पायलट हैं, लेकिन शाम तक कहा कि एक ही पायलट उसके कब्जे में है
-पायलट को पाकिस्तान ने एलओसी से गिरफ्त में लिया।
-पाकिस्तान के विमानों ने हमारे सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने की कोशिश की।
-भारतीय वायुसेना के मिग 21 ने पाकिस्तान के एफ 16 को मार गिराया। एफ 16 के अवशेष भारतीय इलाके में मिले। वायुसेना खुश है कि विंग कमांडर अभिनंदन भारत लौट रहे हैं।
-पाकिस्तान ने एफ 16 के इस्तेमाल की बात को नकारा लेकिन राजौरी में एमरॉन मिसाइल के अवशेष मिले जो एफ 16 में ही इस्तेमाल होते हैं।
-विंग कमांडर अभिनंदन के भारत लौटने का इंतजार है।
-हमारे पास पक्के सबूत हैं कि बालाकोट में आतंकी कैंप को भारी नुकसान पहुंचा है। अभी ये नहीं बता सकते कि कितने आतंकी मारे गए।
-पाकिस्तान के पास एफ 16 विमान है, हम पता लगा सकते हैं कि कौन सा जहाज हमारी तरफ आ रहा है। इसलिए हम कह सकते हैं कि एफ 16 इस हमले में शामिल थे। पाकिस्तान की मीडिया रिपोर्ट में देखेंगे की कुछ इंजन के हिस्से हैं, वे मिग 21 के नहीं हैं। इसे देखकर कहा जा सकता है कि एफ 16 का इस्तेमाल हुआ है।
-हम जो करना चाहते थे वो हमने हासिल किया, अब सरकार के ऊपर है कि वो किस तरह इन सबूतों को सामने रखे।
-हम विंग कमांडर अभिनंदन को जल्द से जल्द देखना चाहते हैं।

थलसेना का बयान

-पाकिस्तान की ओर से लगातार सीजफायर का उल्लंघन जारी है।
-भारतीय सेना ने हर इलाके से मुंहतोड़ जवाब दिया है।
-हमने पूरे इलाके को हाई अलर्ट पर रखा है, हम पूरी तैयार हैं और पाकिस्तान के किसी भी हिमाकत का जवाब देने को तैयार हैं।
-भारत और इसके नागरिकों के खिलाफ काम करने वालों को सबक सिखाते रहेंगे।
-हमारी लड़ाई आतंकवाद के खिलाफ है, आतंकी कैंपों को टारगेट करते रहेंगे।

नौसेना का बयान

-भारतीय नौसेना पूरी तरह तैयार है। जमीन, हवा और पानी सब जगह हम तैयार हैं।
-हम हर स्थिति का सामना करने को तैयार हैं थल सेना और नौ सेना के साथ मिलकर काम करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *