शाह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर अवैध प्रवासियों का समर्थन करने का लगाया आरोप

Spread the love

नयी दिल्ली : कांग्रेस और आप पर हमला करते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने रविवार को कहा कि दिल्ली विधानसभा में एक प्रस्ताव को पारित करने को लेकर जो हुआ वो 1984 के सिख विरोधी दंगों के पीड़ितों के जख्मों पर नमक छिड़कने के समान है. शाह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर अवैध प्रवासियों का समर्थन करने का भी आरोप लगाया.

गौरतलब है कि शुक्रवार को दिल्ली विधानसभा ने 1984 में सिखों के खिलाफ हुए दंगों पर एक प्रस्ताव पारित किया है जिसमें यह मांग की गयी है कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को दिया गया ‘भारत रत्न’ का सम्मान वापस लिया जाये, लेकिन आम आदमी पार्टी (आप) ने कांग्रेस नेता के संदर्भ से खुद को तेजी से अलग कर लिया. बाद में, उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने स्पष्ट किया कि पूर्व प्रधानमंत्री के संबंध में पक्तियां सदन के समक्ष रखे गये मूल प्रस्ताव का हिस्सा नहीं थी. उन्होंने कहा कि यह एक सदस्य द्वारा हस्तलिखित संशोधन था जो इस तरह से पारित नहीं हो सकता है. शाह ने विवरण में गये बिना कहा, विधानसभा और बाद में जो हुआ वो सिख विरोधी दंगों के पीड़ितों के घावों पर नमक छिड़कने के समान है.

उन्होंने भाजपा के बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं के सम्मेलन में कहा, इसने आम आदमी पार्टी के दोहरे चरित्र को उजागर कर दिया है. भाजपा प्रमुख ने कांग्रेस के संदर्भ में आरोप लगाया कि दंगा पीड़ितों को कई साल तक न्याय नहीं दिया गया क्योंकि दंगों के अपराधी (आरोपियों) के संरक्षक थे. शाह ने कहा कि केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार ने चार साल में विशेष जांच टीम गठित करके पीड़ितों के लिए न सिर्फ ‘न्याय आश्वस्त’ किया, बल्कि प्रभावित परिवारों को मुआवजा भी दिया. उन्होंने राफेल सौदे को लेकर गांधी पर भी निशाना साधा. शाह ने कहा, राफेल सौदे पर उच्चतम न्यायालय के फैसले के बावजूद, वह (गांधी) अब भी झूठ बोल रहे हैं और आरोप लगा रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.