उपलब्धि : हरियाणा का पहला जिला झज्जर, जिसके दो खंड सक्षम प्लस घोषित 

Spread the love

स्कूल शिक्षा विभाग के महानिदेशक डा. राकेश गुप्ता ने वीडियो कांफ्रेंस से दी जानकारी

हरियाणा का सबसे पहला सक्षम जिला की उपलब्धि भी झज्जर के नाम दर्ज, राज्य स्तर पर सक्षम प्लस घोषित चार खण्डों में बेरी और मातनहेल खण्ड हुए शामिल

झज्जर, समाचार क्यारी (संजय शर्मा, रवि कुमार) हरियाणा में सरकारी स्कूलों में पढ़ाई की गुणवत्ता में सुधार के लिए मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के दृष्टिकोण पर आधारित सक्षम हरियाणा कार्यक्रम के तहत झज्जर जिला ने एक ओर उपलब्धि हासिल की है। हरियाणा के पहले सक्षम जिला झज्जर के दो खण्ड बेरी व मातनहेल सक्षम प्लस घोषित हुए है। स्कूल शिक्षा विभाग के महानिदेशक डा. राकेश गुप्ता ने राज्य स्तर पर आयोजित सक्षम प्लस के मूल्यांकन के नतीजों की वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से घोषणा करते हुए यह जानकारी दी। राज्य स्तर पर 26 खण्डों का मई माह में किए गए मूल्यांकन के आधार पर केवल चार खण्ड ही सक्षम प्लस की उपलब्धि हासिल कर पाए जिनमेंं अकेले झज्जर जिला के दो खण्ड शामिल होना बड़ी उपलब्धि माना गया है।
उपायुक्त संजय जून ने इस उपलब्धि पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए शिक्षा विभाग के अधिकारियों, शिक्षकों, विद्यार्थियों व अभिभावकों को बधाई दी है। सरकारी स्कूलों में पढ़ाई की गुणवत्ता में सुधार के लिए सक्षम हरियाणा कार्यक्रम बेहद प्रभावी साबित हुआ है। झज्जर जिला के सभी खण्ड सक्षम की उपलब्धि तो हासिल कर चुके है और अब सक्षम प्लस का दर्जा हासिल करना बड़ी बात है। उन्होंने बताया कि ग्रे मैटर्स इंडिया हैदराबाद के द्वारा  किए  मूल्यांकन के परिणामों के आधार पर, यह तय किया जाता है कि ब्लॉक वास्तव में सक्षम या सक्षम प्लस हुआ या नहीं।
जिला में सक्षम हरियाणा कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डा. सुदर्शन पूनिया ने बताया कि सरकारी विद्यालयों  में शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार के लिए शिक्षा विभाग के सहयोग से मुख्यमंत्री  कार्यालय से सक्षम के रूप में राज्यव्यापी अभियान चलाया जा रहा है सक्षम  के अंतर्गत कक्षा तीसरी, पाचवीं तथा सातवीं के विद्यार्थियों का हिंदी तथा गणित विषय की अधिगम क्षमताओं तथा सक्षम प्लस में अंग्रेजी का परीक्षण किया जाता है 7 इस परीक्षण के लिए पूरे खंड में से विद्यालयों का चयन किया जाता 7 इस परीक्षण में जब खंड के 80 प्रतिशत  विद्यार्थी ग्रेड लेवल क्षमताएं प्राप्त कर  लेते है तो उस खंड को सक्षम या सक्षम प्लस खंड घोषित कर दिया जाता है।
उन्होंने इस उपलब्धि का श्रेय सक्षम टीम झज्जर को दिया जिसमें एसडीएम बेरी डा. राहुल नरवाल, एसडीएम झज्जर शिखा, जिला शिक्षा अधिकारी सतबीर सिवाच, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी सुरेन्द्र सिंह, डाइट के प्राचार्य ब्रहम प्रकाश राणा, जिला परियोजना संयोजक राजेश कुमार, खंड शिक्षा अधिकारी वीरेंद्र नारा, कश्मीर सिंह सुहाग, सीएमजीजीए तान्या शर्मा, सभी एबीआरसी, बीआरपी, डाइट के सभी प्राध्यापक विशेषकर निर्मल गुलिया, सभी जिला परियोजना उपसंयोजक, सभी विद्यालय मुखिया, अध्यापक और विद्यार्थीं शामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *