स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 में खुले में शौचमुक्त प्लस बना पंचकूला-राजेश जोगपाल

पंचकूला  राजेश कुमार: कड़ी मेहनत कम स्टाफ के बावजूद पंचकूला शहर ने ओडीएफ प्लस में बाजी मार ली है। पंचकूला अब ओडीएफ (खुले में शौचमुक्त) प्लस हो गया है। पंचकूला की सफलता इसलिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि इस पहले ही प्रयास में निगम को इसके लिए प्रमाण पत्र जारी कर दिया गया है। अब पंचकूला नगर निगम ओडीएफ प्लस-प्लस की रैकिंग के लिए अपनी तैयारी शुरू कर रहा है। ओडीएफ प्लस की रैंकिंग का सीधा लाभ अब पंचकूला को केंद्रीय स्वच्छता सर्वेक्षण में इस बार देखने को मिलेगा। पंचकूला को अब करीब 500 नंबर मिल सकते हैं। यही नहीं अगर ओडीएफ प्लस-प्लस की रैंकिंग मिल जाती है, तो निगम को इसमें स्वच्छ सर्वेक्षण में सीधे 750 नंबर मिलेंगे। शहर में नगर निगम ने लगभग 150 से अधिक सुलभ शौचालय बनाए हुए हैं।
स्वच्छता टीमों ने पंचकूला के विभिन्न क्षेत्रों ओडीएफ प्लस के दावे के आधार पर स्थानों को चिह्नित कर उनका औचक निरीक्षण किया। यह निरीक्षण सुबह चार बजे से रात को 11 बजे तक अलग-अलग टीमों की ओर से किया गया। इसमें शहर की रूटीन स्वच्छता के अतिरिक्त मुख्य रूप से शहर के विभिन्न शौचालय का निरीक्षण किया गया।
निरीक्षण में यह जांचा गया
सर्वेक्षण टीम ने देखा कि लोग खुले में शौच तो नहीं जा रहे हैं। इसके अतिरिक्त शौचालय में देखा गया कि वहां स्वच्छता की क्या स्थिति है, पानी आ रहा है या नहीं। सफाई के लिए कर्मियों की ड्यूटी है या नहीं। साथ ही आस-पास के लोगों से क्षेत्र की स्वच्छता के बारे में फीडबैक भी लिया गया।  पंचकूला नगर निगम के शौचालयों में बेसिक सुविधाएं साबुन, फिरनेल, तेजाब, यूनिरल गोलियां, शीशा, तौलियां, बाइपर, एक आदमी लगाया एक्जोस्ट पंखा, सभी तीनों समय सफाई सारी सुविधाएं दे रखी थी। कहीं कोई लीकेज ओडोनिल, लाइट, होलोजन लाइट लगाई हुई थी।
नगर निगम के प्रशासक राजेश जोगपाल ने बताया कि ओडीएफ प्लस रैंकिंग हासिल करने के बाद से निगम ने ओडीएफ प्लस-प्लस के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू कर दी है। लगभग 150 सार्वजनिक शौचालय पंचकूला, पिंजौर कालका जोन में बनाये हुये हैं। पंचकूला के सारे सार्वजनिक शौचालय सीवरेज सिस्टम से जुड़े हुये हैं। इसलिए ओडीएफ प्लस प्लस भी पंचकूला आसानी से हासिल कर लेगा। जोगपाल ने बताया कि अब स्वच्छ सर्वेक्षण में फीडबैक लेने का काम पूरे जोरों से चल रहा है। हजारों लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। उन्होंने लोगों से अपील की कि वह अधिक से अधिक फीडबैक देकर पंचकूला को अव्वल लाने में सहयोग करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *