सत्संग से मन वचन कर्म बुद्धि होती है पवित्र :-अंतिम सूरज गहलोत।

 नजफगढ़, समाचार क्यारी, संजय शर्मा/ रवि कुमार:-
सत्संग से मानव मात्र का कल्याण होता है वहीं सत्संग सुनने से मन वचन कर्म बुद्धि पवित्र होकर अध्यात्मिक विकास होता है ,यह कहना है गोपाल नगर वार्ड से पार्षद अंतिम सूरज गहलोत का ।
दिव्य ज्योति जागरण संस्थान द्वारा सैनिक एनक्लेव पार्ट 3 में आयोजित  कीर्तन में पहुंची पार्षद अंतिम सूरज गहलोत ने कहा कि भजन कीर्तन के माध्यम से मानसिक सुख मिलता है व जीवन में आगे बढ़ने की सकारात्मक प्रेरणा मिलती है ।
गोपाल नगर वार्ड के सैनिक एनक्लेव पार्ट 3 में आयोजित भव्य भजन कीर्तन कार्यक्रम में भारी भीड़ उमड़ी। पार्षद अंतिम सूरज गहलोत का आयोजकों की ओर से भव्य स्वागत किया गया।
 इस अवसर पर सैनिक एनक्लेव आरडब्लूए के प्रधान अशोक राणा, सतपाल जी ,सहरावत जी, जोगिंदर, विजेश्वर शर्मा सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे। भाजपा युवा नेता सूरज गहलोत ने कहा कि धार्मिक सामाजिक आयोजनों से परस्पर भाईचारा बढ़ता है व भावी पीढ़ी में नैतिक मूल्यों का संचार होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *