माल्या को अपराधी घोषित किये जाने को भ्रष्टाचार के खिलाफ मोदी सरकार की लड़ाई की बड़ी जीत

Spread the love

नई दिल्लीः भारतीय जनता पार्टी ने बैंकों के हजारों करोड़ रुपये के देनदार विजय माल्या को मुंबई की एक विशेष अदालत द्वारा आज भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित किये जाने को भ्रष्टाचार के खिलाफ मोदी सरकार की लड़ाई की बड़ी जीत बताया है।

भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि सरकार ने पिछले वर्ष जुलाई में भगोड़ा आर्थिक अपराधी कानून बनाया था और माल्या इसके तहत पहला आर्थिक अपराधी घोषित हुआ है। उन्होंने कहा कि माल्या बैंकों का 9000 करोड़ रुपये का घोटाला कर विदेश भाग गया था जिसके खिलाफ कार्रवाई की सरकार हर संभव कोंशिश कर रही है।

उन्होंने कांग्रेस पर माल्या को पालने पोसने का आरोप लगाते हुए कहा कि इस पार्टी  के शासन के दौरान उसकी  कम्पनी को दिवालिया होने के बावजूद रिण दिया गया और फिर रिण का पुनर्गठन भी किया गया । उन्होंने आरोप लगाया कि माल्या ने संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार के प्रधानमंत्री को और अधिक रिण दिलाने के लिए पत्र लिखा था और पूर्व में लिए गये रिण में मदद के लिए उन्हें धन्यवाद दिया था। प्रवर्तन निदेशालय की अपील पर विशेष अदालत ने माल्या को भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.