भाजपा- कांग्रेस अमेठी से एक साथ भरेंगे सियासी हुंकार,

भाजपा और कांग्रेस शुक्रवार को अमेठी से एक साथ सियासी हुंकार भरेंगे। दोनों पार्टियों के नेता लोकसभा चुनाव के मद्देनजर सियासी एजेंडा भी सेट करने की कोशिश करेंगे। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और भाजपा की वरिष्ठ नेता व केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी कुछ कार्यों का लोकार्पण और उद्घाटन करने शुक्रवार को अमेठी पहुंच रहे हैं। दोनों नेता विकास व जनता के सरोकारों पर भी एक-दूसरे को घेरने की कोशिश करेंगे।

नए वर्ष में राहुल और स्मृति ईरानी का एक ही दिन अमेठी आना अपने आप में काफी कुछ कह रहा है। भले ही यह संयोग हो लेकिन इसके सियासी योग भी दिख रहे हैं। निश्चित रूप से दोनों लोग एक-दूसरे को घेरकर लोकसभा के लिए माहौल बनाने की कोशिश करेंगे। स्मृति ईरानी जहां राहुल के जरिये कांग्रेस पर हमला बोलेंगी वहीं, राहुल भी स्मृति को प्रतीक बनाकर भाजपा पर निशाना साधेंगे।

यह है वजह

सभी को पता है कि राहुल अमेठी से सांसद हैं तो भाजपा ने 2014 में उनके मुकाबले स्मृति ईरानी को उतारा था। ईरानी चुनाव हार गई थी लेकिन वह अमेठी में लगातार सक्रिय रही हैं। चूंकि राहुल गांधी कांग्रेस के अध्यक्ष भी हैं इसलिए भाजपा के लिए अमेठी का खास सियासी महत्व है। लोकसभा के चुनाव तीन महीने बाद होने वाले हैं। ऐसे में भाजपा व कांग्रेस दोनों तरफ से अमेठी में सियासी एजेंडा सेट करने की कोशिश करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *