नीरव मोदी के बंगले से मिल रही हैं ये कीमती चीजें, प्रशासन ने तोड़फोड़ की बंद

मुंबईः पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपी नीरव मोदी के आलीशान बंगले को गिराए जाने का काम इसे आरंभ करने के दो दिन बाद 27 जनवरी को रोक दिया गया। महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में स्थित मोदी के बंगले को गिराने का काम इसलिए रोका गया क्योंकि प्रशासन घर के भीतर से कीमती सामानों को सही से निकालना चाहता है ताकि संपत्ति से अधिक से अधिक रकम की भरपायी की जा सके।

जिला प्रशासन ने कहा है कि सिविल इंजिनीयरिंग विभाग के इंजीनियरों से मांगी गयी रिपोर्ट मिल चुकी है और अब वे बंगले को गिराने का काम फिर शुरु करेंगे। विभाग के इंजीनियरों से आगे की कार्रवाई के संबंध में पूछा गया था।रायगढ़ के जिलाधिकारी विजय सूर्यवंशी ने पिछले महीने मुंबई से 90 किलोमीटर दूर अलीबाग तट के पास किहिम में स्थित 58 अनधिकृत इमारतों को गिराने का आदेश दिया था और नीरव मोदी का बंगला भी इसमें शामिल था।

अवैध ढांचे के खिलाफ कार्रवाई शुरु करने में नाकामी पर बंबई उच्च न्यायालय की फटकार के बाद इन इमारतों को गिराने का आदेश जारी किया गया था।अन्य एजेंसियों के साथ पीएनबी मामले की जांच कर रही ईडी ने इस संपत्ति की जब्ती की थी। नीरव मोदी देश छोड़कर कहीं और फरार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *