नाबालिगों की अमेरिका तस्करी की कोशिश में पंजाब की एक महिला सहित पांच व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज

Spread the love

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने कहा कि उसने एक ‘शैक्षिक यात्रा’ के बहाने नाबालिगों की अमेरिका तस्करी की कोशिश में पंजाब की एक महिला सहित पांच व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की प्राथमिकी के अनुसार, अमेरिकी दूतावास की एक शिकायत के बाद मामला दर्ज किया गया है। इस मामले में प्राथमिक जांच भी की गई है।

सीबीआई ने पंजाब के किंग्स पंजाब ट्रेवल्स के बलराज सिंह, पठानकोट के निवासी गगन गुप्ता व चंडीगढ़ की निवासी चेतन सभरवाल, तरन तारण निवासी लवप्रीत व होशियारपुर के तिलब राज व अन्य अज्ञात लोगों को मामले में नामित किया है। सीबीआई को 7 फरवरी, 2018 को ईमेल के जरिए की गई शिकायत में अमेरिकी दूतावास के सहायक क्षेत्रीय सुरक्षा अधिकारी-जांचकर्ता विलियम जे.एल्वार्ड ने कहा है कि दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे (आईजीआई) पर 10 अगस्त 2017 को तैनात युनाइटेड एयरलाइंस सुरक्षा अधिकारी ने अमेरिकी दूतावास के अधिकारियों से संपर्क कर सूचित किया कि गगन गुप्ता नाम की एक महिला चार बच्चों के साथ अमेरिका की यात्रा पर जाने की कोशिश कर रही है।

उन्होंने कहा, ‘युनाइटेड एयरलाइंस अधिकारियों ने कहा कि बच्चे व गुप्ता अमेरिका की यात्रा करने के कारणों की पुष्टि करने में असमर्थ थे और बच्चों का शारीरिक रंग-रूप उनके पासपोर्ट के फोटो से मेल नहीं किया।’ सीबीआई ने 28 अप्रैल 2018 को मामले में एक प्राथमिकी दर्ज की। जांच के दौरान यह पाया गया कि गगन गुप्ता बच्चों को अमेरिका तस्करी का प्रयास कर रही थी।

इन बच्चों में अमनप्रीत सिंह मुल्तानी, आकाशदीप सिंह, मोहित व इसमें अज्ञात पहचान वाले नाम भी शामिल है, जिनके नाम करनवीर सिंह, संभव, मिलन मेहरा व इंदरदीप में से माना जा रहा है। इन बच्चों को सेंट जोसेफ कान्वेंट स्कूल के छात्र के तौर पर अमेरिका भेजा जा रहा था।

एजेंसी ने कहा, ‘गगन गुप्ता ने खुद को गलत तरीके से सेंट जोसेफ कान्वेंट स्कूल की प्राचार्या के रूप में प्रस्तुत किया, जिसे नाबालिगों को अमेरिका की शैक्षिक यात्रा पर ले जाने का अधिकार दिया गया है।’ सीबीआई ने यह भी पाया कि बलराज सिंह ने बच्चों के लिए वीजा व स्कूल पहचानपत्र की व्यवस्था करने में मदद की, जबकि सभरवाल ने स्कूल से अपने छात्रों की अमेरिका की ‘शैक्षिक यात्रा’ का आयोजन करने के लिए संपर्क किया था। संभरवाल ने नई दिल्ली में अमेरिकी दूतावास में छात्रों व कर्मचारी सदस्यों के साक्षात्कार को भी सुगम बनाया था। लवप्रीत सिंह व तिलक राज पर बच्चों को पंजाब से नई दिल्ली लाने में मदद करने के लिए मामला दर्ज किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.