दीपेंद्र के प्रचार में निकले ब्राह्मण,गुर्जर पैरों में पड़े छाले दिखाकर क्यों हुए भावुक सुने जुबानी

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *