जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर हिमस्खलन की चपेट में आने के बाद दस लोग लापता

 जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर हिमस्खलन की चपेट में आने के बाद दस लोग लापता हैं। भारी बर्फबारी और भूस्खलन के कारण रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण राजमार्ग शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन भी बंद है। पुलिस सूत्रों के अनुसार, गुरुवार शाम जवाहर सुरंग के पास एक पुलिस चौकी के पास हिमस्खलन हुआ। लापता लोगों में छह पुलिसकर्मी, दो अग्निशमन सेवा के कर्मचारी और दो कैदी शामिल हैं।

 

सूत्रों के अनुसार, ‘‘हिमस्खलन के तुरंत बाद खोज और बचाव अभियान शुरू हुआ लेकिन खराब मौसम के कारण इसमें बाधा आ रही है।’’ बनिहाल सेक्टर में हिमस्खलन और रामसू-रामबन इलाके में भूस्खलन के कारण शुक्रवार को राजमार्ग पर यातायात की अनुमति नहीं है। यातायात विभाग के अधिकारियों ने कहा कि काजीगुंड और जवाहर सुरंग के बीच हिमस्खलन हुआ था जहां अभी तक सफाई नहीं हो पाई है।

 

राजमार्ग पर यातायात की बहाली में कम से कम तीन दिन लग सकते हैं इसलिए प्रशासन ने घाटी में पेट्रोल और डीजल की बिक्री को सीमित करने का आदेश दिया है। कश्मीर के डिवीजनल कमिश्नर बसीर अहमद खान द्वारा जारी एक आदेश में पेट्रोल पंपों को निर्देश दिया गया है कि वे प्रतिदिन प्रति वाहन तीन लीटर पेट्रोल और वाणिज्यिक वाहनों को 10 लीटर डीजल से अधिक की आपूर्ति न करें। भारी बर्फबारी और खराब दृश्यता के कारण कश्मीर घाटी और देश के बाकी हिस्सों के बीच शुक्रवार को हवाई यातायात भी स्थगित रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *