एमए के परीक्षा परिणाम में खामियों को लेकर छात्रों ने किया प्रदर्शन

चरखी दादरी| हाल ही में घोषित एमए के परीक्षा परिणाम में खामियों को लेकर छात्रों नेजनता कॉलेज के गेट के बाहर खड़े होकर नारेबाजी कर रोष जताया। छात्रों ने विश्वविद्यालय प्रशासन से परिणाम को ठीक करने की मांग की है। छात्रों ने यूनिवर्सिटी की विश्वसनीय एवं पारदर्शिता पर सवाल उठाए हैं। सोमवार को कक्षाओं का बहिष्कार कर बंसीलाल यूनिवर्सिटी जाकर प्रदर्शन करने की प्लानिंग बनाई है।

 

एमए राजनीति शास्त्र के छात्रों ने बताया कि एमए प्रथम और द्वितीय वर्ष का बंसीलाल यूनिवर्सिटी द्वारा पांच फरवरी को परिणाम घोषित किया था। इसके बाद यूनिवर्सिटी ने छह फरवरी को इस परिणाम में संशोधन कर दोबारा से परिणाम घोषित कर दिया। इसमें उत्तीर्ण छात्र भी अनुत्तीर्ण कर दिए। कुछ छात्रों के अंक ही घटाए हैं। छात्रों ने कहा कि यह कदम यूनिवर्सिटी की सत्यता एवं विश्वसनीयता पर सवाल उठाता है। यूनिवर्सिटी की कार्यशैली की पारदर्शिता एवं निष्पक्षता पर एक प्रकार का प्रश्नचिह्न है। इन छात्रों का कहना है कि हर साल छात्रों के साथ ऐसा ही होता आ रहा है। कभी प्रश्न पत्र में सवाल पाठ्यक्रम के बाहर से दिए जाते हैं।

इसे लेकर इन छात्रों ने जनता कॉलेज के गेट पर नारेबाजी कर रोष जताया। इन छात्रों ने कहा कि अगर यूनिवर्सिटी ने इस परिणाम को ठीक नहीं किया तो छात्र कानून का सहारा लेने को विवश होंगे। छात्रों ने कहा कि इस बारे में उन्होंने कॉलेज प्रधानाचार्य को अवगत करवा दिया है। यूनिवर्सिटी प्रशासन को जल्द ही इस बारे में सकारात्मक निर्णय लेना चाहिए ताकि छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ न हो सके।

छात्र नेता संजीत ने बताया कि सोमवार को भिवानी स्थित बंसीलाल यूनिवर्सिटी जाकर छात्रों द्वारा प्रदर्शन किया जाएगा। अगर इसके बावजूद भी उनकी समस्या का हल नहीं होता है तो मंगलवार से कालेज की सभी कक्षाओं के छात्र अपनी कक्षाओं का बहिष्कार कर देंगे। इस मौके पर सुनैना, अभिषेक, सुमित ग्रेवाल, सरिता, मोनिका, पूजा, अरुण बंसल, संजीत, रीना, आरती, कविता, सुनीता, संजीव सुनील आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *