इतिहास गवाह है किसान का भला सदैव कांग्रेस ने किया :- अजीत फौगाट  

Spread the love
चरखी दादरी ( 11 फरवरी ) – इतिहास गवाह है कि कांग्रेस पार्टी हमेशा ही किसान हितैषी पार्टी रही है और किसान का भला सदैव कांग्रेस ने ही किया है ! फिर चाहे किसानो के कर्ज माफी की बात हो य़ा किसानो के बकाया बिजली बिल माफ करने की बात रही हो ! कांग्रेस पार्टी ने सदा किसानो की भलाई के लिए कारगर कदम उठाये हैं ! भूमि – अधिग्रहण बिल , किसानो को फसल पर बोनस , किसान क्रेडिट कार्ड ये सब कांग्रेसी सोच का ही परिणाम  है! इतना ही नही खेती के लिए पर्याप्त मात्रा में उचित समय पर बिजली और पानी कांग्रेस सरकार के दौरान ही मिलता था ! क्षेत्र की जनता ये भली भांति जानती है कि इलाके में नहरो का जाल बिछाने और पानी लाने का श्रेय केवल विकास पुरूष स्व. चौधरी बंसीलाल को ही जाता है और उन्ही के नक्से कदम पर चलते हुए पूर्व सांसद बहन श्रुति चौधरी ने प्राकृतिक आपदा पाले पर मुआवजे का प्रावधान करवाय़ा और किसानो को मुआवजा दिलवाकर इतिहास रचने का काम किया ! ये शब्द हरिय़ाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी सचिव अजीत फौगाट ने अपने जनसम्पर्क अभियान के दौरान गाँव मिसरी , रावलधी , अचीना , रानीला , बास में लोगो को सम्बोधित करते हुए कहे ! इससे पूर्व ग्रामीणो ने अजीत फौगाट का गाँव में पहुंचने पर फूल मालाएे व पगड़ी पहनाकर जोरदार स्वागत किया ! लोगो को सम्बोधित करते हुए अजीत फौगाट ने कहा कि आजादी के बाद एेसी पहली किसान विरोधी सरकार आयी है जिसने 70 वर्ष के इतिहास में पहली बार खाद पर 5% जीएसटी , ट्रैक्टर/कृषि उपकरणों पर 12%जीएसटी , टायर/ट्यूब/ट्रांसमिशन पार्ट्स पर 18% जीएसटी , कीटनाशक दवाईयों पर 18% जीएसटी , कोल्ड स्टोरेज़ इक्विपमेंट पर 18% जीएसटी टैक्स लगाकर किसान को बर्बादी की कगार पर लाकर खड़ा कर दिया ! पिछले चार सालो से डीजल पैट्रोल के दामो में बढोतरी कर किसान को सबसे ज्यादा नुकसान पहुचाने का काम इसी भाजपा सरकार ने किया है !अजीत ने कहा कि पिछले चार सालो में देश में 41% किसानो की आत्महत्या बढ़ गई है और आज देश में प्रतिदिन 35 किसान आत्महत्या कर रहे  है और केंद्र की भाजपा सरकार के इन चार सालो में 50 हजार से ज्यादा किसान आत्महत्या कर चुके है ! इतनी संवेदनहीन और बेपरवाह सरकार प्रदेश व देश के इतिहास में शायद कभी नही आई ! इस अवसर पर कांग्रेस विचार विभाग जिला चेयरमैन सुरेश पुनिया , युवा उपाध्यक्ष हैप्पी सांगवान , नरेन्द्र बलोदा , सुशील प्रधान , आनन्द फौजी , अमित य़ादव मिसरी , अमन , अशोक , राजसिंह य़ादव , रामचन्द्र य़ादव , सुरेन्द्र य़ादव , राव धर्मपाल , अमर सिंह ,संजय , नरेश , राजबीर शर्मा , वीर सिंह , राजेश , मोनू , पृथ्वी सिंह , सोमबीर , मन्दिप इत्यादी मुख्य रुप से उपस्तिथ थे

Leave a Reply

Your email address will not be published.