Reliance Jio यूजर्स के लिए बुरी खबर, अब पुराने प्रीपेड प्लांस नहीं करा सकेंगे रिचार्ज

Spread the love
टेलीकॉम कंपनी रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने एक बार फिर उपभोक्ताओं को झटका देते हुए टैरिफ प्रोटेक्शन सेवा को बंद कर दिया है। इस सेवा के तहत यूजर्स टैरिफ की कीमतें बढ़ने के बाद भी पुराने प्रीपेड प्लांस रिचार्ज करा सकते थे। हालांकि, अब उपभोक्ताओं नए प्रीपेड पैक्स ही रिचार्ज कराने पड़ेंगे। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कंपनी ने छह दिसंबर को अपने रिचार्ज प्लांस की कीमतों में बढ़ोतरी की थी। वहीं, अब ग्राहकों के लिए रिलायंस जियो के एफयूपी लिमिट वाले पैक मार्केट में उपलब्ध हैं।

Jio का प्रोटेक्शन प्लान

कंपनी ने इस सेवा को खास उन उपभोक्ताओं के लिए पेश किया था, जो किसी भी एक्टिव प्लान के साथ नहीं जुड़े थे। लेकिन इस प्लान का फायदा उन यूजर्स को नहीं मिला था, जिनके नंबर पर पहले से प्रीपेड प्लान एक्टिव था। रिपोर्ट के मुताबिक, कंपनी ने इस सेवा को नॉन-एक्टिव यूजर्स के लिए लॉन्च किया था।

यूजर्स को नए प्लांस कराने होंगे रिचार्ज

जियो की प्रोटेक्शन सेवा बंद होने से अब नॉन-एक्टिव यूजर्स को नए प्रीपेड प्लांस रिचार्ज कराने होंगे। नए रिचार्ज पैक की बात करें तो कंपनी ने 98 रुपये की शुरुआती कीमत के साथ प्लांस बाजार में उतारे हैं। हालांकि, टैरिफ हाइक के बाद भी कंपनी अपने यूजर्स से अन्य नेटवर्क पर कॉलिंग के लिए छह पैसे प्रति मिनट की दर से वसूल रही है। वहीं, दूसरी तरफ एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया ने अपने ग्राहकों को किसी भी नेटवर्क पर अनलिमिटेड कॉलिंग की सुविधा दी है।

जियो के सब्सक्राइबर्स संख्या हो सकती है कम

मीडिया रिपोर्ट के आधार पर कहा जा सकता है कि आने वाले दिनों में जियो के सब्सक्राइबर्स की संख्या कम होगी, क्योंकि लोग आईयूसी चार्ज लगने से काफी नाराज हैं। वहीं, इससे एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया को फायदा होगा।

रिलायंस जियो का 149 रुपये वाला प्लान

रिलायंस जियो के इस प्लान की बात करें तो आपको इसमें प्रतिदिन 1 जीबी डाटा (कुल 24 जीबी डाटा) और 100 एसएमएस की सुविधा मिलेगी। साथ ही आप जियो-टू-जियो पर अनलिमिटेड कॉलिंग कर पाएंगे, लेकिन आपको अन्य नेटवर्क पर कॉल करने के लिए 300 (एफयूपी मिनट) मिलेंगे। साथ ही आप इस पैक में जियो एप्स को भी इस्तेमाल कर सकेंगे। वहीं, इस प्रीपेड प्लान की समय सीमा 24 दिनों की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *